उत्तर प्रदेश: कोरोना महामारी के दौरान कैसे एक नेता बना लोगों का ह्रदय सम्राट

गोविन्द सिंह द्वारा लिखित

जेवर: कोरोना महामारी को जहां बड़े से बड़ा नेता संभालने में नाकाम रहा है। वहीं जेवर से विधायक धीरेन्द्र सिंह ने स्थिति को बहुत ही अच्छे तरीके से काबू में किया है। उन्होंने जेवर विधानसभा में स्वास्थ्य के मामले में उत्कर्ष कार्य किया। उन्होंने विधानसभा में सेनिटाइजेशन करवाया और मुफ्त में मास्क भी बांटे ताकि लोग खुद को कोरोना से बचा सकें। इस महामारी के दौर में उनका एक अलग ही अवतार देखने को मिला। धीरेन्द्र सिंह ने खुद मौके पर पहुंच कर लोगों की तत्काल मदद की। जिन लोगों को अस्पताल मिलने में परेशानी हो रही थी उन्हे अस्पताल पहुंचाकर और बेड दिलवाकर उनकी मदद की।

वह क्षेत्र में कोरोना महामारी के दौरान सबसे सक्रिय नेता के तौर पर उभरे। जिसने लोगों को हर मुसीबत से निकालने के लिए हरसंभव प्रयास किए। उन्होंने जनता के हर दु:ख, दर्द और उनकी परेशानी को दूर करने का प्रयास किया। जनता के लिए वो हनुमान बनकर आए जो पूरे जेवर वासियों के लिए संजीवनी बूटी ऑक्सीजन के रूप में लेकर आए। जिन जिन अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी थी उन्होंने वहां उसकी पूर्ति करवाई।

श्री धीरेन्द्र सिंह संग अंकित चौहान
ग्रेटर नोएड़ा निवासी अंकित चौहान ने बताया कि माननीय विधायक श्री धीरेन्द्र सिंह जी ने कोरोना में लोगों का बहुत ही ज्यादा ध्यान रखा है। उनकी समस्यओं को सुलझाया ताकि उनको ज्यादा दिक्कतों का सामना ना करना पड़े। साथ ही अंकित ने यह भी बताया कि मिर्जापुर के पास सेक्टर 18 पर यमुना आर्थोरिटी की सहायता से ऑक्सीजन रिफिलिंग काउंटर शुरू करवाया गया ताकि लोगो को आसानी से यह उपलब्ध हो सके। विधायक जी ने खुद इसका जायजा लिया।

अंकित चौहान ने आगे यह भी बताया कि उनकी कॉलोनी में सेनिटाइजेशन भी करवाया गया। लोगों को 6 गज दूरी बनाने के दिशा निर्देश दिए। सभी लोगों को जब तक जरूरी ना हो तब तक घर से बाहर ना निकले।

धीरेन्द्र सिंह कई अस्पतालों का जीर्णोद्वार करवाया और उन अस्पतालों की सारी व्यवस्थाओं को दुरुस्त कराने के आदेश दिये गये है। उन्होंने सामुदायिक केन्द्र को भी जिला स्तरीय अस्पताल बनाने के आदेश दिये हैं।

कुल मिलाकर धीरेन्द्र सिंह एक ऐसे मसीहा बनकर उभरे हैं। जो राजनीति में रहकर समाजसेवक का काम कर रहे हैं। देश के सभी विधायकों को जेवर की स्थिति की समीक्षा करनी चाहिए कि किस तरह यहां कोरोना को काबू किया जा रहा ताकि ये संक्रमण ज्यादा ना फैले। ट्वीटर पर जिन लोंगो ने उन्हें टैग किया। उन्होंने उन सबकी भी सहायता की है।

विधायक धीरेन्द्र सिंह के लिए कोरोना एक अवसर बनकर आया जिसमें अपने द्वारा किए गये समाजकार्यों के बल पर जननेता बन गये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *