एक नींबू से गायब हो जाएगी खर्राटे लेने की समस्या?

रिपोर्ट- भारती बघेल

नमस्कार…. आज हम बात करेंगे स्नोरिंग पर जिसे हिंदी में खर्राटे लेना कहते हैं…वैसे ये समस्या ऐसी नहीं है जिसके लिए परेशान होने की जरुरत हो लेकिन ये जरुर कह सकते हैं कि इस समस्या की वजह से लोगों को खुद पर हंसने का मौका दे सकते हैं….खर्राटे लेने वाले व्यक्ति लोग दूर सोना पसंद करते हैं…तो आज हम इसका इलाज जानेंगे कि क्या करें जिससे हमारी ये समस्या दूर हो जाए…वहीं डॉ. बिस्वरुप रॉय चौधरी से इस विषय पर चर्चा हुई, तो क्या कुछ निकल कर आया चलिए हम आपको बताते हैं….

—अब पहला सवाल ये आता है कि खर्राटे लेने की समस्या क्यों होती है?
इस पर डॉ. बीआरसी ने जवाब देते हुए कहा कि खासकर जो मोटे लोग होते हैं…या जिनके लंग्स के आसपास फैट भरा रहता है…वो जब पीठ के बल सोते हैं या सर से बड़ा तकिया लगा कर सोते हैं…तो उसके विंड पाइप में सीटी का आकार बन जाता है…और खर्राटे वाली आवाज़ आने लग जाती है…और ये साउंड ही इंडिकेशन है इस बात का कि जो एअर है वो खुलकर नहीं जा रही…तो यहीं कारण होता है खर्राटे लेने का…यानी कि उसके लंग्स में जो एअर जाती है वो उतना खुलकर नहीं जा रही जितनी जानी चाहिए….

—वहीं अब अगला सवाल आता है कि क्या इस खर्राटे लेने वाली समस्या को ठीक किया जा सकता है और अगर हां तो कैसे?
तो इसे दो तरह ये ठीक करने की बात करेंगे…पहला इसे सोर्ट टर्म में कैसे ठीक करें…यानी कोई अभी आपके सामने खर्राटे ले रहा है तो अभी के लिए उसके खर्राटे कैसे बंद करें…दूसरा लॉन्ग टर्म में कैसे ठीक करें….मतलब आगे जाकर उस इंसान को खर्राटे हो ही न…वहीं शॉर्ट टर्म में ठीक करने के लिए आपको बस इतना करने पड़ेगा…जब भी कोई खर्राटे ले रहा होगा तो ज्यादातर पोस्चर उसका पीठ के बल होगा…मुंह हल्का खुला होगा और खर्राटे ले रहा होगा…उसको क्या करना है पीठ के बल न लेटकर साइड के पोज़ में लेट जाना चाहिए…या पेट के बल लेट जाए…ऐसा करने से उसके खर्राटे बंद हो जाएंगे…

—तो अब हम जानेंगे कि इसे लॉन्ग टर्म में कैसे ठीक करें…तो ऐसे लोग जिन्हें खर्राटे लेने की आदत है वो एक नींबू लें….और अपनी टी-शर्ट में पीछे लगाकर उसे सिल लें…सिलाई करने से जब भी वो पीठ के बल लेटेगा तो वो नींबू उसे चुभेगा…तो वो लेटेगा ही नहीं…और यहीं इसका इलाज है…और अगर आपको सिलना झंझट लग रहा है तो आप एमाज़ॉन पर जाकर ऐसे टी-शर्ट खरीद सकते हैं वहां इस तरह के टी-शर्ट मिलते हैं…या बेल्ट भी आते हैं जो आगे से नॉर्मल होते हैं पीछे से ऊंचे होते हैं…ये तो हुआ टेम्परेरी इलाज…

—अब बात करते हैं परमानेंट इलाज की तो जब आपकी लंग्स की कैपेसिटी ठीक होने लगेगी आपकी स्नोरिंग की समस्या खत्म हो जाएगी..तो अगर आपको लंग्स की कैपेसिटी बढ़ानी है तो आप डीआईपी डाइट को फॉलो करें…हालांकि डीआईपी डाइट के जरिए भी ठीक होने में इसे टाइम लगेगा…करीब -करीब 9 से 12 महीने लग जाएंगे आपको ठीक होने में लेकिन आप ठीक हो जाएंगे…उसके बाद आप किसी भी पोस्चर में सोएं..आपको खर्राटे की समस्या नहीं होगी…

ये रिपोर्ट आपको कैसी लगी हमें जरुर बताना वहीं ऐसी महत्वपूर्ण जानकरी के लिए आप हमारी वेबसाइट यूंही पढ़ते रहिए…इसे फॉलो करके हमारे परिवार के साथ जरुर जुड़ जाइए…वहीं स्वास्थ से जुड़े तमाम वीडियोज़ आपको हमारे यूट्यूब चैनल पर मिल जाएंगे जो कि नेशनल खबर के नाम से है….तो आप भी हमारे नेशनल खबर के परिवार में जरुर जुड़ें…और खुद को स्वस्थ बनाएं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *