कोरोना काल में गरीबों के मसीहा बने राजेश पंडित

रिपोर्ट- भारती बघेल

ग्रेटर नोएडा- रील लाइफ में सफलता की नई इबारत लिखने वाले दीन दुखियों की समस्या के निवारण के लिए रियल हीरो बन जाने वाले रील हीरो अभिनेता और एंकर राजेश पंडित इन दिनों कोरोना कहर से लगे लॉकडाउन में मदद मुहिम चलाकर अपने सामाजिक दायित्वों का बखूबी निर्वाह रियल लाइफ में करते नजर आ रहे हैं…

आवाज व अभिनय के बल पर रेडियो, टीवी पर्दे के रास्ते भोजपुरी फिल्मों व बॉलीवुड में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा चुके सामाजिक सरोकारों से जुडे पंडित को सामाजिक विकास का जज्बा विरासत में मिला है..सियासी तौर पर प्रधानमंत्री मोदी को आदर्श मानने वाले पंडित सामाजिक विकास के लिए समय समय पर आर्थिक रुप से कमजोर लोगों के लिए मददगार बनते नजर आते हैं…चाहें वो सर्दी में लोगों को सर्द से बचाने के प्रयास हो या अभिभावकों को स्कूली ज्यादतियों से बचाने का…चाहें वो प्रतिभा विकास का हो या भूख से तड़पते परिवार…सभी की समस्याओं को पटल कर पहुंचा कर निराकरण के प्रयास में लगे रहते हैं…

लॉकडाउन में प्रयासों की इस कड़ी को आगे बढ़ाते हुए लॉकडाउन नियमों का पालन करते हुए और जिला प्रशासन की अनुमति को लेकर आर्थिक रुप से कमजोर परिवारों की सहायता के लिए कर्तव्य पथ पर निकल चुके श्री पंडित में मूलभूत जरुरतों की तरफ ध्यानाकर्षित करते हुए गरीबों की जरुरी खाघ पदार्थों का वितरण किया ताकि उनके परिवार भूखे न सोएं…बीते दिन उन्होंने कोरोना संक्रमण से लड़ाई में गरीबों को मैडिकल मदद का फैसला लेते हुए आवश्यक प्राथमिक दवाईयां, सेनेटाइजर, मास्क आदि के वितरण के साथ इस लॉकडाउन में विशेष ध्यान रख सेनिट्जरी पैड का वितरण शुरु कर दिया है..

उधर अभिभावकों की समस्या को देखकर उनके द्वारा लिखे गए जिलाधिकारी को पत्र का जवाब भी सकारात्मक आया है…उनकी इस मदद मुहिम को बल देते हुए जिलाधिकारी ने भी अभिभावकों को तीन माह फीस माफी के निर्देश भी जारी कर दिए हैं…इस फीस मांफी का पत्र भी श्री पंडित ने अभिभावक संघ के अध्यक्ष के रुप में लिखा था…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *