Thursday, June 20, 2024
National

क्या रेलमंत्री अश्विनी वैष्णव देंगे इस्तीफा ? जानिए अब तक कितने रेलमंत्री ने दिया इस्तीफा

रिपोर्ट :- प्रज्ञा झा

ओडिसा के बालासोर में शुक्रवार शाम हुए ट्रेन हादसे में अभी तक 288 लोगों के मारे जाने की खबर है वहीं पर घायलों की संख्या 900 से ज्यादा बताई जा रही है | एनडीआरएफ, एसडीआरएफ और प्रशासन की कई टीमें लगातार बचाव कार्य में जुटी हुई हैं | सुबह ही रेलमंत्री अश्विनी वैष्णव घटना स्थल का जायजा लेने के लिए पहुंचे थे और उन्होंने कहा भी की घटना के जो भी कारण है उसका पता जल्द ही लगाया जाएगा | इस पूरी घटना के बाद विपक्षी पार्टियों ने ये मांग करनी शुरू कर दी है की रेलमंत्री को इस्तीफा देना चाहिए | इससे पहले ऐसे जो भी हादसे हुए हैं उसमें रेलमंत्रियों ने तत्काल प्रभाव से इस्तीफा दे दिया |

उन रेलमंत्रियों के बारे में जानते है जिन्होंने इस्तीफा दिया

1- लाल बहादुर शास्त्री : 1956 नवंबर का वो दिन था जब तमिलनाडु में अरियालुर ट्रेन के साथ हादसा हुआ और इस हादसे में 142 लोगों की जान चली गयी |जिसके बाद अपनी नैतिक जिम्मेदारी को समझते हुए उन्होंने इस्तीफा दे दिया | अपनी जिम्मेदारी को समझते हुए उन्होंने जो किया उससे पूर्व प्रधान मंत्री काफी खुश हुए और उन्हें अन्य कई मंत्री पद की जिम्मेदारी दे दी गयी और ऐसे ही वो देश के प्रधानमंत्री का पद भी संभाल पाए |

2- नितीश कुमार : लाल बहादुर शास्त्री के इस्तीफे के 43 साल बाद 1999 में जब असम में जब गैसाल रेल हादसे में 290 लोगो की जान गयी थी तब नितीश कुमार ने अपनी नैतिक जिम्मेदारी को समझते हुए अपने पद से इस्तीफा दे दिया था |

3- ममता बनर्जी : सन् 2000 में एक साल में दो ट्रेन हादसे हुए जिसके चलते ममता बनर्जी जो उस वक्त में रेलमंत्री थी उन्होंने इस्तीफा दे दिया | लेकिन उस वख्त के प्रधान मंत्री अटल बिहारी वाजपेई ने इनका इस्तीफा स्वीकार करने से मना कर दिया |

4- सुरेश प्रभु : 2016 में जब 4 दिन के अंदर 2 ट्रेनें पटरी से उतर गयी और उसमें 150 लोगों की जान चली गयी तब अपनी नैतिक जिम्मेदारी समझते हुए सुरेश प्रभु ने अपना इस्तीफा सरकार को सौंप दिया |

ऐसे कई हादसे पहले भी हो चुके हैं जिस वख्त में रेलमंत्रियों ने इस्तीफा दे दिया जब रिपोर्टर्स द्वारा ये सवाल अश्विनी वैष्णव से पूछा गया तो उन्होंने कहा की अभी फ़िलहाल उनका ध्यान बचाव कार्यों में है | इन सभी चीजों पर बाद में ध्यान दिया जाएगा |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *