घरेलू उपाय से हिले हुए दांत भी होंगे मजबूत? दांतों से जुड़ी हर समस्या का मिलेगा समाधान….

रिपोर्ट- भारती बघेल

नमस्कार…आज हम दातों से जुड़ी सभी समस्याओं पर बात करेंगे…और न सिर्फ इसकी समस्याओं पर बात करेंगे..बल्कि इसके समाधान के बारे में भी जानेंगे…और इस समस्या को लेकर हमने जिनसे बात की…वो न केवल भारत बल्कि विश्वभर में प्रसिध्द हैं…आप लोगों के चहीते डॉ. बिस्वरुप रुप रॉय चौधरी जी…

पहला सवाल आता है कि मसूड़ों और दांतों की क्या-क्या समस्या हो सकती है?
इस पर डॉ. बी.आर.सी. ने जवाब दिया कि मसूड़ों और दांतों की बहुत समस्या नहीं होती हैं…लेकिन हां नाम बहुत सारे हो सकते हैं…ये सारी समस्या इन्फेक्शन के चलते होती हैं…एक उदाहरण के जरिए अगर हम इसे समझें तो अभी में बात कर रही हूं तो मेरे मुंह के अंदर बहुत सारे वैक्टीरिया होंगे, वायरस होंगे,फंगस होंगे जो कि नेचुरल बात है…वहीं ये बैक्टीरिया फंगस हमारे पूरे पर्यावरण में होते हैं…लेकिन जब हमारी म्यूकौशल इम्युनिटी यानी जो मुंह के अंदर की हमारी इम्युनिटी जब कम हो जाती है तो ऐसी कंडीशन में ये जो वैक्टीरिया हैं, फंगस हैं ये ज्यादा तादाद में बढ़ जाते हैं…उसके बाद हमारे मसूड़ों में घाव होने लगते हैं…जिससे मसूड़ों में कभी – कभी ब्लीडिंग होने लगती है कभी दर्द होने लगता है…कभी कभी सूजन आ जाती है…और फर क्योंकि मसूड़े ही दांत को पकड़ कर रखते हैं तो दांत हिलने लगते हैं…फिर वहीं इन्फेशन जब बढ़ जाता है तो दांतों को खाने लगता है…वहीं ये सब स्टेप बाई स्टेप होने लगता है…

—-वहीं अगला सवाल आता है कि ये सारी समस्याएं क्यों होती हैं…क्या कारण है इसका?
इस पर डॉ बी.आर.सी. ने कहा कि ये सारी समस्याएं तब होती हैं जब आपको म्युकौशल इम्युनिटी कम पड़ जाए…अब सवाल ये आता है कि म्युकौशल इम्युनिटी कमजोर कब पड़ती है…तो इसका पहला कारण है वो खाना जो इन समस्याओं को बढ़ावा देता है…जैसे —रिफाइन्ड फूड, बिस्किट, टॉफी,मिठाई, आइस्क्रीम, दही, लस्सी या कुछ लोगो चाय बार बार पीते हैं…तो इस तरह की चीजों का सेवन करने से हमारे दांतों की समस्या को बढ़ावा मिलता है…

दूसरी बात आप जब सोते हैं तो ब्रश करके नहीं सोते…और ब्रश न करने से क्या होता है आपने जो कुछ भी खाया होता है उसका कुछ न कुछ पार्ट आपके मुंह में रह जाता है…और फिर इससे आपके दांतों की समस्या बढ़ जाती है…इसलिए आपको रोज रात में सोते समय ब्रश करके सोना चाहिए…

तीसरा अपने लिए आप खुद टूथ पाउडर बनाइए…इसलिए लिए आपको क्या करना होगा?
–आप नमक लीजिए और हल्दी लीजिए..और फिटकरी का पानी लीजिए….और नमक और हल्दी में डालकर मिक्स कर लीजिए..और उसको अपनी हाथ की उंगली पर लेकर या ब्रश पर लेकर उससे ब्रश कीजिए…औऱ अगर आपको इसमें फ्लेवर और खुशबू लानी है तो आप इस पेस्ट में लौंग भी कूटकर डाल सकते हैं…और इसी से आप रात और सुबह दोनों टाइम ब्रश कीजिए…या फिर आप ये भी कर सकते हैं कि रात में आप इससे पेस्ट कर सकते हैं और सुबह कोई आयर्वेदिक टूथपेस्ट से ब्रश कर सकते हैं…

—आखिरी सवाल ये आता है कि कुछ समस्याएं ऐसी भी होती हैं जो काफी बड़ी होती हैं जैसे पायरिया है, दूसरा खाना चबाने में दिक्कत होना,तीसरा दांतों से खूना आना…सूजन आना…या सांस जब लेते हैं तो उसमें बदबू आना तो उसके लिए क्या ईलाज है…

इस पर डॉ. बीआरसी ने कहा कि आपको 15 दिन डीआईपी डाइट-(माइनस) प्लेट 2 पर रहना होगा…-प्लेट 2 यानी जो कुक फूड सेक्शन है वो हटा दें डीआईपी डाइट से …और अगर दांतों में दर्द बगैरा है तो ब्रेकफस्ट में जो फ्रूट ब्रेकफस्ट था उसका क्या करना है यानी उन्हें या ब्लैेंडर में डाला उसे स्मूथी बना लिया..इससे क्या होगा आपको खाने में आसानी रहेगी..वहीं लंच में जो जो वेजिटेबल्स खाने वाले हो उनको भी ऐसे ही करना है मिक्सी में डालो,थोड़ा पानी एड करो और वो फिर स्मूथी बन जाएगा…डिनर में भी ऐसे ही करना है रॉ वेजिटेबल्स यानी कच्ची सब्जियों को लेना है और उन्हें मिक्सी में डालकर थोड़ा पानी एड करके स्मूथी बना लेना है…

दूसरी बात जो याद रखने वाली है वो ये कि अगर दर्द ज्यादा है और चबाने में दिक्कत हो रही है तो उसे जबरदस्ती चबाना नहीं है…अगर आप जबरदस्ती करोगे तो जो घाव है वो और ज्यादा बढ़ जाएगा…

और तीसरी बात जब आप इस डाइट को स्मूथी बनाकर लेंगे तो फटाफट पीकर खत्म नहीं कर देना है…उतना ही टाइम लगाना हैं जितना आप काना खाने में लगाते हो…मान लो आप अपना खाना अगर 15 मिनट में फिनिश करते हो तो इसे भी धीरे धीरे पीकर आपको 15 मिनट में फिनिश करना है…

इसके आप ग्रीन जूस लो–जैसे पालक का जूस,या रेड जूस लो यानी चुकुंदर का जूस या वीट ग्रास यानी गेहूं के ज्वारे का जूस आप ले सकते हैं…और एक बात जो ध्यान देने वाली है वो ये है कि अगर आप ये जूस लेते हैं तो जूस का एक शिप यानी एक घूंट कम से कम 5 सेकेंड अपने मुंह में रखें उसके बाद अंदर लें…अब आप पूछेंगे इससे क्या होगा…इससे ये होगा कि जब आप इसे 5 सेकेंंड मुंह पर रखेंगे तो जहां जहां घाव है या सूजन है…या ब्लीडिंग है वहां ये पहुंचेगा और इसे ठीक करेगा…और आपको ताज्जूब होगा कि महज एक से दो दिनों के भीतर ही ब्लीडिंग होना रुक जाएगा…

इसके अलावा जो जूस आप ले सकते हैं वो है टमाटर का जूस, चुकंदर का जूस, पालक का जूस या फिर व्हीट ग्रास का जूस…अगर आप व्हीट ग्रास का जूस लेते हैं तो आपको करीब 50 ml से 100 ml ही लेना है…और बाकी जूस आपको करीब 250 ml तक लेना है..

अगर आप ये सब करेंगे तो आपको 15 दिनों में 99.9 परसेंट आराम मिल जाएगा …उसके बाद आगे के 15 दिन आप नरम फल खाना शुरु कर दीजिए..फिर इस 30 दिनों में आपके जो दांत में वो जड़ों को पकड़ लेंगेया मजबूत हो जाएंगे…उसके बाद जो हमने पहले DIP diet- प्लेट 2 किया था…उसे हम एड कर लेंगे…बाकी जो टूथपेस्ट बताया था उसी से हर रोज रात में ब्रश करके सोना है..

तो दोस्तों सबसे पहले तो आप हमें कमेंट करके बताएं कि आपको ये लेख कैसा लगा…इसके साथ ही अगर आप इस लेख की वीडियो देखना चाहते हैं तो आप हमारे यूट्यूब चैनल नेशनल खबर पर जाकर देख सकते हैं…हमारे यूट्यूब चैनल National khabar पर हम भारत के जानेमाने डॉक्टर्स के साथ चर्चा करके आपके लिए सफल और सस्ता इलाज लेकर आते हैं…इसलिए आप भी हमारे नेशनल खबर के परिवार के साथ जुड़िए और खुद को स्वस्थ बनाइए…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *