Friday, July 19, 2024
HEALTH

डायबिटीज टाइप-1 का मिला सटीक इलाज, नहीं लेनी होगी इंसुलिन

रिपोर्ट :- प्रज्ञा झा

1- शुगर बढ़ी है तो नहीं है डायबिटीज !
2 -आनुवांशिक डायबिटीज केवल 100 में से 20 % बच्चों में ही होती है।
3 – आनुवांशिक डायबिटीज को जानने की लिए MODI रिपोर्ट निकलवाएं
4 -बच्चों को अब इंसुलिन लेने की जरूरत नहीं है !

नई स्टडी के मुताबिक भारत में 8 6 लाख लोग ऐसे हैं जो डायबिटीज टाइप 1 से ग्रषित हैं और ऐसे ही ये संख्या बढ़ती जा रही है। वो बच्चे जिन्हे अभी खेलने खाने की जरुरत है वो अभी इंसुलिन को कंधे पर ढ़ो रहे हैं। डायबिटीज टाइप 1 बच्चों में पाया जाने वाला एक डिसऑर्डर है जो की अधिकतर आनुवंशिक होते हैं। लेकिन ऐसा क्यों हो रहा है की जिस परिवार में आज तक किसी को भी मधुमेह नहीं हुआ उनके बच्चों को डायबिटीज की दिक्कत होनी शुरू हो चुकी है ? ये डिसऑर्डर किसी भी उम्र के बच्चे को हो सकती है। लेकिन इसे ठीक करने की जगह उन्हें इंसुलिन दे दी जाती है। इंसुलिन एक तरह की हॉर्मोन है जो ग्लूकोस से एनर्जी लेकर बॉडी के सेल्स तक पहुंचता है।

जब हमारी अग्न्याशय इस हॉर्मोन को बनाने में सक्षम नहीं होती तभी बहार से शरीर में इंसुलिन को इंजेक्ट किया जाता है। हमारी लाइफस्टाइल के कारण कई बीमारियां उत्पन्न होती जा रही है। जिसमें से एक है डायबिटीज। मधुमेह तब भी हो सकती है जब आपके परिवार में किसीको भी शुगर की शिकायत हो। डायबिटीज के मरीजों की बढ़ती संख्या को मद्दे नज़र रखते हुई हम डायबिटीज टाइप 1 का इलाज खोजने के लिए एक्सपर्ट्स से मिल। शोधकर्ता डॉ एस कुमार ने डायबिटीज टाइप 1 को लेकर कई बड़े खुलासे किये जिसके बारे में जानने के लिए दिया हुए लिंक पर क्लिक करें

आइए जानते हैं एस कुमार के बारे में
डॉ. एस कुमार Appropriate Diet Therapy Centre के संस्थापक हैं । डॉ. एस कुमार पीएचडी होल्डर होने के साथ साथ “डॉक्ट्रेट ऑफ लिटरेचर” की डिग्री रसियन यूनिवर्सिटी से प्राप्त कर चुके हैं साथ ही 3 बार गोल्ड मेडलिस्ट भी रहे हैं । डायबिटीज की दुनियां में शोध करने के लिए उन्हें फ्रांस की सीनेट में भारत गौरव अवार्ड से सम्मानित किया जा चुका है। इतना ही नहीं डॉ. एस कुमार को लंदन की 200 साल पुरानी पार्लियामेंट में डायबिटीज पर शोध के लिए बेस्ट साइंटिस्ट के अवार्ड से भी नवाजा गया है।
डॉ. एस कुमार अभी तक कई किताबें भी लिख चुके हैं, जिनमें से एक पुस्तक को राष्ट्रपति भवन के पुस्तकालय में स्थान भी दिया गया है। भारत में Appropriate Diet Therapy Centre की 56 से अधिक शाखाएं संचालित हैं यदि आप भी संपर्क करना चाहते हैं तो दिए गए नंबर कॉल करें : +91 937216648

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *