Friday, July 19, 2024
DELHI/NCR

दिल्ली में शराब पर झूमती सियासत ! सिसोदिया ने पूर्व एलजी के खिलाफ CBI को लिखा खत

नेशनल खबर, डेस्क रिपोर्ट

दिल्ली में शराब को लेकर आप सरकार और LG के बीच तकरार बढ़ती जा रही है। शनिवार को एक तरफ जहां दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने नई आबकारी नीति को लेकर पूर्व LG अनिल बैजल की ओर से लिए गए फैसले पर CBI जांच की मांग की। दूसरी ओर नए LG विनय कुमार सक्सेना ने करप्शन के आरोप में दिल्ली के तत्कालीन आबकारी आयुक्त आरव गोपी कृष्णा सहित 11 अफसरों को सस्पेंड कर दिया।

मनीष सिसोदिया ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि नई आबकारी नीति को पहले जो पूर्व LG अनिल बैजल थे उन्होंने मंजूरी दे दी थी, लेकिन बाद में इस फैसले को रद्द कर दिया गया। इससे सरकार को करोड़ों का नुकसान हुआ। यह फैसला क्यों लिया गया? मुझे अभी भी उम्मीद है कि CBI इसकी निष्पक्ष जांच करेगी। इससे पहले उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना ने भी केंद्रीय जांच एजेंसी को पत्र लिखकर नई शराब नीति की जांच की सिफारिश की थी।

सिसोदिया ने कहा कि ये नई नीति 2021 में लागू की गई थी, लेकिन सत्ता में बैठे हुए कुछ लोगों ने कुछ थोड़़े से चुनिंदा लोगों को लाभ पहुंचाने के लिए इसके एग्जीक्यूशन पर रोक लगा दी। सिसोदिया ने बताया कि पहले दिल्ली में 849 दुकानों का डिस्ट्रीब्यूशन सही नहीं था। नई नीति में पूरी दिल्ली में बराबरी पर दुकान बांटने का प्रस्ताव था।

इस नीति को मंजूरी देने से पहले, पूर्व एलजी ने नीति को ध्यान से पढ़ा भी था। उन्होंने पहले जब बदलाव का सुझाव दिया। तो फिर हमने उसे जून में संशोधन के साथ फिर भेजा। जिसे उन्होंने दूसरी बार क्लियर किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *