पंजाब में बिजली की कटौती पर सिध्दू ने उठाए सवाल, कैप्टन अमरिंदर के साथ- साथ केजरीवाल को भी घेरा

रिपोर्ट- भारती बघेल
आज अगर किसी की प्रतिक्रिया देखना चाहो तो ट्विटर एक बड़ा माध्यम बन गया है…खासकर नेताओं की प्रतिक्रिया ट्विटर के जरिए ही आयदिन देखने को मिलती रहती है…इसी कड़ी में आज कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिध्दू में पंजाब में बिजली की समस्या पर सवाल खड़ा कर दिया है…और अपने ट्वीट के जरिए एक को नहीं बल्कि तीन तीन लोगों को घेरा है जिसमें कैप्टन अमरिंदर, बादल और अरविंद केजरीवाल शामिल हैं…

उन्होंने एक के बाद एक ट्वीट कर अपनी ही पार्टी को सुझाव दे डाला..आपको बता दें कि कैप्टन सरकार ने बिजली को लेकर जो निर्देश जारी किये हैं, उनको लेकर सिध्दू ने कहा कि अगर सरकार सही दिशा में काम करेगी तो बिजली कटौती की जरुरत नहीं पड़ेगी…और न ही ऑफिस टाइमिंग या एसी चलाने के लिए जद्दोजहत करनी पड़ेगी..

सिध्दू ने अपने ट्वीट में कई मुद्दे उठाए…चाहें वो बिजली की कटौती हो, उसकी लागत हो,बिजली की खरीद की सच्चाई हो या पंजाब के लोगों को फ्री या 24 घंटे बिजली देने की बात हो…उन्होंने कहा कि 3 निजी प्लांट पर निर्भर रहने की वजह से जिस बिजली की कीमत प्रति यूनिट औसतन 4.54 रुपये है..उसे 5 से 8 रुपये प्रति यूनिट पर खरीदनी पड़ती हैे…

सिध्दू ने पूर्व बादल सरकार पर भी जमकर निशाना साधा..उन्होंने कहा कि बादल सरकार ने पीपीए यानी पॉवर परचेज एग्रीमेंट को जनहित के खिलाफ काम करने वाला करार दिया…क्योंकि उन्होंने तीन निजी थर्मल प्लांट के साथ पीपीए पर हस्ताक्षर कर दिये…जिसके चलते पंजाब 5400 करोड़ रुपये का भुगतान कर चुका है..इतना ही नहीं अभी भी 65 हजार करोड़ का भुगतान करना बाकी है…

अब आप सोच रहे होंगे की सिध्दू ने केजरीवाल पर सवाल क्यों उठाया? चलिए हम आपको बताते हैं…सिध्दू ने केजरीवाल के दिल्ली मॉडल पर सवाल उठाया उन्होंने की पंजाब को ऑरजिनल मॉडल चाहिए न कि कॉपी कट..इतना ही नहीं उन्होंने आंकड़ों से जमी हुई धूल की तस्वीर भी साफ कर दी…उन्होंने कहा कि दिल्ली बिजली सब्सिडी के तौर पर केवल 1699 करोड़ रुपये देती है और पंजाब 9 हजार करोड़ रुपये देता है…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *