मौत का सौदागर बना आगरा का पारस हॉस्पीटल? प्रेक्टिकल करते- करते ले ली 22 लोगों की जान

रिपोर्ट- भारती बघेल

आगरा के श्री पारस हॉस्पीटल का एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है…वायरल वीडियो में दिखाया गया है कि कैसे एक डॉक्टर ने कुछ जिंदगियों का सौदा कैसे मिनटों में मौत से कर दिया…जिस अस्पताल में लोग बड़ी उम्मीद से आते हैं…आज उसी अस्पताल से डर लगने लगा है..वजह क्या है ऐसी? चलिए हम आपको बताते हैं …करीब 1 महीने पहले मौत का वो मंजर रचा कोरोना और ऑक्सीजन की कमी ने नहीं बल्कि जिंदगी बचाने वाले डॉक्टर ने रचा था…वायरल वीडियो में अमानवीय चेहरा तो ठीक से केमरे में नहीं दिख रहा है, लेकिन आवाज से अपनी हैवानियत का जोर शोर से प्रदर्शन कर रहा है…वायरल वीडियो में ये आवाज आगरा के पारस अस्पताल के संचालक डॉ. अरिंजय जैन की है…जिसमें वो खुद खुलासा कर रहे हैं कि 26 अप्रैल को उन्होंने मॉक्ड्रिल पर चैक किया कि ऑक्सीजन की कमी से कितने मरीज मरते हैं..

—एक्शन मोड में प्रशासन
वीडियो के वायरल होने के बाद प्रशासन भी एक्शन मोड में आ गया है…जानकारी मिलते ही पुलिस फौरन ही पारस अस्पताल पहुंची और अस्पताल को सीज कर दिया….वहीं जो मरीज पारस अस्पताल में भर्ती थे उन्हें दूसरे अस्पताल में शिफ्ट कर दिया गया है…साथ ही आपको बता दें कि अस्पताल के खिलाफ महामारी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है…अब संचालक वायरल वीडियो होने के बाद सफाई देते नजर आ रहे हैं…उनका कहना है कि वो नॉर्मल मरीज नहीं थे..वेंटिलेटर पर थे…हालत बहुत सीरियस थी…

भड़के लोग, किया हंगामा
डॉक्टर साहब के लिए ये कह देना चाहें आसान हो कि मरीजों की हालत सही नहीं थी…वेंटिलेटर पर थे…इसलिए एक्सपेरीमेंट कर लिया…लेकिन उनके दिल से जाकर पूछो जिनका कोई अपना वहां भर्ती था…उसे तो वेंटिलेटर पर भी आस थी कि उसका अपनी अभी जिंदा है…वो वापस सही हो जाएगा…क्या बीती होगी जब उनका अपना इस दुनिया को छोड़कर चला गया…और अब ये सच जानने के बाद कितना गुस्सा आया होगा कि वो कोरोना या ऑक्सीजन की वजह से नहीं बल्कि डॉक्टर साहब के एक्सपेरिमेंट की बलि चढ़ गए…ऐसे में गुस्सा आना तो लाजमी है…इसलिए लोगों के हॉस्पीटल के बाहर जाकर जमकर हंगामा किया…

विपक्ष ने भी उठाए सवाल
5 मिनट के भीतर 22 मरीजों के मौत के दावों पर राजनीति ने भी अपने पैर पसार लिए हैं…कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने ट्वीट किया…बीजेपी सरकार में न तो मानवता बची है और न ऑक्सीजन…मामला यहीं नहीं थमा…कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर कहा कि ऑक्सीजन की कमी से जो मौतें हुई हैं…उनका जिम्मेदार कौन है?

ऑक्सीजन की कमी, बिल्कुल नहीं…
वायरल वीडियो के चलते लगातार उठते सवालों को देखते हुए आगरा प्रशासन ने ऑक्सीजन स्टेटस जारी किया है…ये स्टेटस 25 मई से 27 मई तक का जारी किया गया है…जिसमें सिलेंडर भी थें…और कुछ ऑक्सीजन सिलेंडर रिजर्व भी थे…इसके बाद ये कहने में कोई संदेह नहीं कि डॉक्टर की बेवकूफाना हरकत से मरीजों की मौत हो गई…

क्या बोले यूपी के स्वास्थ्य मंत्री
वायरल वीडियो के बाद तरह तरह की बातें हो रहीं हैं..स्वास्थ्य से जुड़ा मामला है तो स्वास्थ मंत्री का बयान भी बेहद जरुरी है…यूपी के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने इस पूरे मामले को लेकर कहा है कि अभी जांच चल रही है….श्री पारस हॉस्पीटल की शिकायत मिली है लेकिन जांच के बाद ही कुछ कहा जा सकता है…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *