सीएम फेस पर तनातनी के बीच केशव प्रसाद मौर्य के घर पर अचानक पहुंचे सीएम योगी

रिपोर्ट- भारती बघेल

जी हां ये सच है…यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ अचानक डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य के घर पहुंच गए हैं…आपको बता दें कि साढ़े चार साल में ये पहला मौका है जब सीएम योगी खुद चलकर केशव प्रसाद के सरकारी घर पर पहुंचे हैं…आपकी जानकारी के लिए बता दें कि डिप्टी सीएम केशव प्रसाद का घर 7 कालिदास मार्ग पर है…जहां सीएम योगी आज पहुंचे हैं…अगली साल यूपी में विधानसभी चुनाव होने हैं ऐसे में सीएम योगी और डिप्टी सीएम की तनातनी की खबरें भी लगातार आ रहीं थीं…ऐसे में योगी आदित्यनाथ का खुद उनके घर चलकर जाना बड़ी घटना का संकेत है…

मनमुटाव की खबरों के बीच इस मुलाकात के कितने मतलब?
बीते दिनों से लगातार सीएम योगी और डिप्टी सीएम के बीच मनमुटाव की खबरें देखने और सुनने को मिली…आज डिप्टी सीएम केशव प्रसाद के घर बीजेपी के कोर कमेटी के सदस्यों के लिए लंच का कार्यक्रम रखा गया था…मिली जानकारी के मुताबिक आरएसएस के कृष्ण गोपाल भी मौजूद हैं…इसी बीच अचानक सीएम योगी का केशव प्रसाद के घर पहुंचना एक बड़ी घटना है…पहले दिल्ली दरबार और उसके बाद केशव प्रसाद के घर जाकर कहीं न कहीं यही समझ में आता है कि अब बिगड़ते रिश्तों को लेकर सीएम योगी चौकन्ना हो गए हैं और एक के बाद एक नेता को मनाने में लगे हैं…

आप जरा पीछे जाएंगे तो आपको याद आएगा कि आरएसएस के दत्तात्रेय होसबले और बीजेपी के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष यूपी के दौरे पर आए थे…बीएल संतोष ने तीन दिन की लखनऊ बैठक में बीजेपी के तमाम नेताओं से बातचीत करके एक रिपोर्ट तैयार की और दिल्ली हाईकमान को सौंप दी…और यहां आपको याद दिला दें कि इन बैठकों में डिप्टी सीएम केशन प्रसाद मौर्य भी शामिल थे…

इसके बाद आप जानते ही हैं कि सीएम योगी दिल्ली दरबार में गए थे…वहीं जाकर सबसे पहले उन्होंने अमित शाह से मुलाकात की…उसके बाद पीएम मोदी से मुलाकात की…उसके बाद बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा से भी मुलाकात की…सभी का मार्गदर्शन लेकर योगी लखनऊ लौटे…और लखनऊ आते ही उन्होंने राजनातिक पदों को भरना शुरु कर दिया जो काफी समय से खाली थे…

अगर बात करें सीएम योगी और डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य के मनमुटाव की तो ये तस्वीर तब और साफ हो गई जब बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि 2022 का यूपी का चुनाव योगी आदित्यनाथ के चेहरे पर लड़ा जाएगा..वहीं इस बात का जिक्र जब डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मोर्य से किया गया तो उन्होंने कहा ये तो दिल्ली के दरबार में तय किया जाएगा कि सीएम का फेस 2022 में किसका होगा…इन बयानों को देखकर तो यहीं मालूम होता है कि सीएम योगी और डिप्टी सीएम के बीच में जमी बर्फ अभी तक पिघल नहीं पा रही है..

एक तरफ बीजेपी के राष्ट्रीय संगठन मंत्री बीएल संतोष एक बार फिर लखनऊ में डेरा डालकर पार्टी कार्यकर्ताओं से मुलाकात कर रहे हैं वहीं दूसरी तरफ अगर ऐसे में सीएम योगी अचानक केशव प्रसाद मौर्य के घर पहुंच जाएंगे तो सवाल तो बनेंगे ही…हालांकि सरकार ने कहा है कि कि यह औपचारिक मुलाकात है…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *