सुशील कुमार पहलवान का दूसरा चेहरा कितना भयानक ?

रिपोर्ट- भारती बघेल

सुशील कुुमार जिसने दो दो बार भारत को ओलंपिक में मेडल दिलवाकर देश का नाम ऊंचा किया था..लेकिन किसे पता था कि जिस सुशील कुमार को युवा अपना आदर्श मानते थे उसका दूसरा चेहरा इतना भयानक होगा..जिसका कुख्यात गैंगेस्टर के साथ रिश्तों का खुलासा होगा..जो हत्या के आरोप में सलाखों के पीछे जाएगा…

जिसने कभी देश का मान बढ़ाया था..उसने अपनी करतूतों से देश को शर्मसार कर दिया…जिसकी ताकत पर पूरा देश गुमान करता था…किसी को क्या पता था कि वो पहलवान के भेष में एक अपराधी है…अंतर्राषट्रीय पहलवान के तौर पर दुनिया भर में मशहूर सुशील कुमार के बारे में जो खुलासे हो रहे हैं वो बेहद चौंकाने वाले हैं..पहलवानी तो सुशील की वो ढाल थी जिसके पीछे उसने अपने काले कारनामे छिपा रखे थे..पता चला है कि रिह्सलर सागर धनखड़ की हत्या के मामले में गिरफ्तार सुशील कुमार का अपराधियों के साथ गठजोड़ था…ऐसे सबूत मिले हैं कि सुशील कुमार का कनेक्शन कुख्यात गैंग्स्टर नीरज बवानिया से तार जुड़े थे…

सुशील कुमार के नीरज बवानिया से रिश्ते
दो साल पहले ही दिल्ली पुलिस ने नीरज बवानिया के गिरफ्तार किया था…फिलहाल नीरज बवानिया तिहाड़ जेल में बंद है…ऐसी चर्चा है कि नीरज बवानिया जेल से ही अपना गैंग चलाता था..जयराम की दुनिया में नीरज बवानिया दिल्ली के दाऊद के नाम से मशहूर है…कुख्यात नीरज बवानिया के साथ गठजोड़ से पहले सुशील कुमार पर अपराधियों से रिश्ते के आरोप लगे थे…उत्तर प्रदेश के कुख्यात अपराधी सुंदर भाटी के साथ भी सुशील कुमार का नाम जुड़ा था..सुशील कुमार ने दिल्ली नगर निगम के दिल्ली गाजियाबाद सीमा पर टोल टैक्स उगाही का टेंडर लिया था…सुशील पर आरोप था कि उन्होंने यहां पर टोल टैक्स वसूलने का जिम्मा गैंग्सटर सुंदर भाटी को सौंपा था..

क्या है पूरा मामला?
सुशील कुमार शोहरत के आसमान में चमकता हुआ एक सितारा था…इज्जत,दौलत सब उसके कदमों में थी..उसके पास लाखों रुपये विज्ञापन की कमाई से आते थे..एक बेहतरीन सरकारी नौकरी था…अब सवाल ये है आखिर एक अंतर्राष्ट्रीय रेसलर कैसे जुल्म के दलदल में धंसता चला गया…जिस सागर धनखड़ की हत्या के आरोप में सुशील कुमार पुलिस की गिरफ्त में है वो भी सुशील का फैन था..सुशील की पत्नी के फ्लैट में वो किराये पर रहता था…दे महीने का किराया उसने नहीं दिया था…सुशील इसी बात पर उससे नाराज था…ये नाराजगी इतनी ज्यादा बढ़ गई कि सुशील कुमार ने सागर और उसके दो दोस्तों का अबहरण कर लिया…बर्बरता के साथ मारपीट की जिसमें सागर धनखड़ ने दम तोड़ दिया…

18 दिन तक पांच राज्यों की पुलिस को चकमा देता रहा पहलवान सुशील कुमार..आखिरकार दिल्ली पुलिस के हत्थे चढ़ ही गया..पुलिस उसकी तलाश में उत्तराखंड से लेकर पंजाब तक की खाक छानती रही..लेकिन सुशील कुमार दिल्ली में एक स्कूटी पर जाता हुआ पकड़ा गया…दरअसल पुलिस के पास सुशील की हर गाड़ी का नंबर और लोकेशन थी…लिहाजा सुशील कुमार ने दिल्ली के हरिनगर की एक लड़की से मदद मांगी..सुशील ने उस लड़की की स्कूटी ली…और अपने साथी अजय के साथ निकल गया..जिस लड़की से सुशील ने स्कूटी ली थी वो भी सिपोर्ट्स से जुड़ी है…वो सुशील कुमार की स्टूडेंट है…

4 मई को सागर धनखड़ की हत्या के बाद सुशील ऋषिकेश के एक बाबा के आश्रम में गया…7 मई को वापस दिल्ली आ गया..इसके बाद कभी बहादुरगढ़, कभी चंडीगढ़ कभी भटिंडा तो कभी गुरुग्राम में छिपता रहा…लेकिन 23 मई को मुंडका से आखिरकार पुलिस ने उसे धर दबोचा…

वहीं सूत्रों के हवाले से ये भी खबर है कि ओलंपिक पदक विजेता सुशील कुमार पर मकोका के तहत कार्रवाई की तैयारी हो रही है…मकोका की धारा संगठित अपराध करने वालों पर लगाई जाती है…मकोका लगने के बाद जमानत मिलना कठिन हो जाती है…और पुलिस को चार्जशीट दायर करने के लिए 6 महीने का वक्त मिल जाता है…वहीं इसके तहत आरोप सिद्ध पाए जाने पर आजीवन सजा हो सकती है…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *