Wednesday, May 29, 2024
National

China में पैर पसार रहा Mycoplasma Pneumoniae, अब Bharat AIIMS में मिले 7 केस

चीन में हाहाकार मचा रह मइक्रोप्लाज़्मा न्यूमोनिया तेजी से अपने पैर भारत की तरफ भी बढ़ा रहा है। भारत AIIMS में 7 मरीज पाए गए हैं जो मइक्रोप्लाज़्मा न्यूमोनिया से पीड़ित हैं। ये बैक्ट्रिया बच्चों में पाया जा रहा है। इसके लिए सर्वलांस बढ़ने की आवश्यकता है।


written by: Pragya Jha


China Virus Corona से अभी तो भारत उभरा ही था की एक नई बीमारी दरवाजे पर दस्तक दे रही है। चीन के तबाही मचा रहा Mycoplasma Pneumoniae के केसेस अब भारत में भी पाए जा रहे हैं। दिल्ली AIIMS में अप्रैल से सितम्बर के बीच इस बीमारी के 7 मरीज पाए गए हैं। इस वायरस के चलते लोगों में दहशत फैली हुई है।
AIIMS ने पीसीआर और आईडीएम् जाँच कराए


अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संसथान द्वारा PCR or IDM परीक्षणों के जरिए चीन में बच्चों में पाई जा रही साँस की बीमारी पैदा करने वाले बैक्टीरिया का पता लगाया। इन दोनों परीक्षणों की पाजिटिविटी रेट 3 से 16 प्रतिशत तक जाती है। यहीं सबसे बड़ी वजह है की लोग चिंता में हैं।
रिपोर्ट के मुताबिक मइक्रोप्लाज़्मा न्यूमोनिया बैक्टीरिया का पता लगाने के लिए सर्वेलन्स को बढ़ाने की जरुरत है। एक रिपोर्ट में कहा गया था की पहले केस की जाँच PCR के द्वारा लगाया गया जबकि बाकि केसेस की जाँच IDM परिक्षण के द्वारा लगाया गया।
Mycoplasma Pneumoniae के लक्षण
आम तौर पर जिन बच्चों में मइक्रोप्लाज़्मा न्यूमोनिया के बैक्टीरिया पाए जा रहे हैं उनमें कई लक्षण सम्मान्य हैं जैसेकि गाला खबर होना , थकन, बुखार, या खांसी जो हफ़्तों तक रे सकती हैं। लोगों में चिंता इसलिए भी बढ़ रही है क्यूंकि 2019 में कोरोना भी चीन से ही फैला था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *