ओलंपिक में गोल्ड लाने वाले नीरज चोपड़ा की जानिए पूरी कहानी

रिपोर्ट- भारती बघेल

नीरज चोपड़ा का नाम आज हर किसी की जुबान पर है।और हो भी क्यों न आखिर उन्होंने काम ही ऐसा कर दिखाया है। हिंदुस्तानियों की आंखों में पनप रहे गोल्ड के सपने को आखिरी उन्होंने पूरा जो किया है। आपको बता दें कि नीरज चोपड़ा में इस बार के ओलंपिक में भाला फेंक कार्यक्रम में गोल्ड हासिल किया है। और इसी के साथ एक गोल्ड मेडल भारत के हिस्से आ ही गया। पोडियम पर खड़े नीरज और सामने बजता हुआ राष्ट्रगान। तिरंगा धीरे -धीरे ऊपर जाते हुए। ये वो लम्हा था जब पूरा भारत गौरव से भर गया था।

—मीडिया का नीरज से सवाल कि भारत के लिए गोल्ड मेडल जीतकर कैसा लग रहा है?
इस पर नीरज चोपड़ा ने जवाब दिया कि मैं भारत के लिए गोल्ड लेकर बहुत खुश हूं। उन्होंने आगे कहा कि यहां से भारतीय खेलों की शुरुआत नए दौर से होगी। मैं अपनी खुशी शब्दों में नहीं बता सकता । जिस वक्त मैंने जीता था, उस वक्त मुझे बहुत गर्व महसूस हो रहा था। मैं पोडियम पर खड़ा था। देश का तिरंगा लहरा रहा था। और जैसे राष्ट्रगान की धुन कानों में पड़ रही थी। उस वक्त बहुत गर्व महसूस हो रहा था। वहीं मुझे लगता है कि आने वाले सालों में भारत खेल की दुनिया में एक नया दौर आने वाला है।

नीरज चोपड़ा ने बताया कि साल 2019 में मेरी कोहिनी में चोट के चलते मैं गोल्ड मेडल से चूक गया था। और 2020 में कोरोना के चलते ये सपना पूरा होते होते रह गया था। और आज इस गोल्ड मेडल ने उन सारी पुरानी यादों को मिटा दिया। अब मुझे बहुत राहत है। हर एथलीट का सपना होता है कि वो गोल्ड जीते। वहीं उन्होंने कहा कि मैं किस्मत को बहुत मानता हूं। बुरा वक्त आया था लेकिन वो कहते हैं न कि बुरा वक्त आता ही इसलिए है कि अच्छा वक्त आ सके।

—-मिल्खा सिंह को मानने के पीछे नीरज ने क्या वजह बताई?
इस पर नीरज चोपड़ा ने कहा कि मैंने मिल्खा सिंह के एथलेटिक्स के कई वीडियोज देखे हैं।वो ट्रेक एंड फील्ड में किसी भारतीय व्यक्ति को पोडियम पर देखना चाहते थे।जब मैंने गोल्ड जीता।राष्ट्रगान बज रहा था। मैं अपनी भावनाओं पर काबू नहीं रख पाया।मिल्खा सिंह का सपना पूरा हो गया मगर अफसोस कि ये सब देखने के लिए मिल्खा सिंह नहीं रहे।

—नीरज चोपड़ा का ऐथलीट- का अगला लक्ष्य क्या होगा?
नीरज ने कहा कि मैं घर लौटकर अपनी जीत का जश्न मनाऊंगा। मां के हाथ का बना हुआ चूरमा खाऊंगा। साथ ही उन्होंने कहा कि मैं जरूरी ब्रेक लूंगा और अच्छी तरह सो जाउंगा। वहीं आगे उन्होंने कहा कि वो इसके बाद अगले साल होने वाले कॉमनवेल्थ गेम्स, एशियन गेम्स और वर्ल्ड चैंपियनशिप की तैयारी करेंगे।

Leave a Comment