क्या पेगासस बन गया है विपक्ष का मुख्य मुद्दा? राहुल गांधी ने दी तीखी प्रतिक्रिया…

रिपोर्ट- भारती बघेल

न्यूज एजेंसी भाषा के मुताबिक आज विपक्षी दलों की बैठक हुई थी…बैठक के बाद कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि पेगासस का उपयोग करके लोकतंत्र की आत्मा पर चोट की गई है…जिसे कोई भी बर्दास्त नहीं कर सकता…आगे उन्होंने कहा कि इस मामले को लेकर संसद में चर्चा होनी चाहिए…मिली जानकारी के राहुल गांधी ने विपक्ष के प्रमुख नेताओं की मौजुदगी में ये दावा भी किया कि सरकार पेगासस के मुद्दे से आंखे चुरा रही है…वो इस मुद्दे पर बात नहीं करना चाहती है….

राहुल गांधी यहीं नहीं रुके उन्होंने कहा कि संसद में हमारी आवाज को दबाया जा रहा है…उन्होंने भारत सरकार से सवाल किया कि क्या पेगासस को भारत सरकार ने खरीदा है? वहीं आगे एक और सवाल सरकार पर दागते हुए पूछा कि क्या इसका इस्तेमाल सरकार ने अपने ही लोगों पर किया है…बस हमें हां या न में सरकार जवाब दे दे….

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ये दावा किया है कि भारत सरकार ने पेगासस के जरिए बहुत से लोगों की जासूसी की है जिसमें विपक्ष के प्रमुख नेता, कुछ सामाजिक कार्यकर्ता, कुछ पत्रकार शामिल हैं…आगे उन्होंने पीएम मोदी और शाह पर सवाल दागते हुए कहा कि हमें हथियारों का प्रयोग आतंकवादियों के खिलाफ करना चाहिए, लोकिन इसे लोकतांत्रिक संस्थाओं के खिलाफ क्यों प्रयोग किया गया….पेगासस का जो मामला है वो राष्ट्रवाद का मामला है…पीएम मोदी और शाह ने लोकतंत्र की आत्मा पर चोट की है…जिसे हरगिज बर्दाश्त नहीं किया जाएगा…

इसी बीच समाजवादी पार्टी के नेता रामगोपाल यादव का भी बयान आया…उन्होंने कहा कि संसद की कार्यवाही नहीं चल रही है इसके लिए कोई और नहीं बल्कि सरकार जिम्मेदार है….वहीं पेगासस के मुद्दे को लेकर उन्होंने कहा कि इस मुद्दे को लेकर पूरा विपक्ष एकजुट है और सरकार को इसका जवाब देना होगा…

बातें यहां भी नहीं थमी बल्कि शिवसेना के संजय राउत का बयान भी सामने आया…उन्होंने कहा ये मामला राष्ट्रीय सुरक्षा का है…सरकार को तो खुद आगे आकर इस पेगासस मुद्दे पर चर्चा करनी चाहिए…

कुल मिलाकर विपक्षी दलों ने ये साफ कर दिया है कि जब तक पेगासस मुद्दे पर बातचीत करने के लिए सरकार तैयार नहीं होगी तब तक संसद में यूंही गतिरोध होता रहेगा….

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *