Wednesday, May 29, 2024
HEALTH

डायबिटीज न होने के बावजूद दवाइयों पर किये 22 साल में 22 लाख ख़राब , जानिए क्या है वजह ?

रिपोर्ट :- प्रज्ञा झा, संवाददाता नेशनल खबर


डायबिटीज आज एक ऐसा नाम है जिसके बारे में हर व्यक्ति वाकिफ है कैसे होती है और क्या वजह है ये बताने की भी शयद जरूरत नहीं है क्यूंकि आज हर 11 में से एक व्यक्ति की डायबिटीज की दिक्कत है। इसकी सबसे बड़ी वजह तो आप अपने खान पीन को ही मान सकते हैं। जितना जयदा आप अपने स्वस्थ की तरफ लापरवाह होंगे तो स्वस्थ भी आपकी तरफ उतनी ही शालीनता से लापरवाह होगा। इसके बाद आपके पास एक ही रास्ता रहता है और वो है “डॉक्टर का दरवाजा”। इससे बच पाना मुश्किल सा हो सकता हैं लेकिन नाममुमक़िन नहीं है। आज डायबिटीज जिस तरह से पैर पसर रहा है वो डरने वाला है क्यूंकि डायबिटीज की मरीजों की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। लोग अपने घर में किसी भी डायबिटिक मरीज के होने से घबराते हैं क्यूंकि उनके मुताबिक घर में एक भी डायबिटिक मरीज के होने का मतलब है इसका किसी परिवार के सदस्य में पहुंचना। लेकिन सालों से चल रही डायबिटीज से आपको निजात मिल सकता है। सिर्फ कुछ दिन के खानपान और अपनी जीवन शैली में बदलाव करने से ये हो सकता है। भारत ही नहीं अगर आप विदेशों में भी जाएंगे तो डायबिटीज में सिर्फ 3 तरह के ही टेस्ट होते हैं लेकिन ये अधूरे जाँच हैं। ऐसा कहना है शोधकर्ता डॉ एस कुमार का उनके मुताबिक भारत में 90 % ऐसे लोग हैं जो अधूरे जाँच करा रहे हैं। साथ ही सालों से इन्सुलिन और दवाइयां ले रहे हैं। हालिया ही उन्होंने अपने एक मरीज का भी जीकर किया जिसमें उन्होंने बताया की उनके पेशेंट को 22 सालों से मधुमेह थी और वो 22 लाख रूपए तक खर्च कर चुके थे लेकिन एप्रोप्रियेट डाइट थेरेपी सेंटर से इलाज लेने के बाद आज उनकी परिस्थिति क्या है ये देखने के लिए निचे दिए हुए लिंक पर जाएं ।


आइए जानते हैं एस कुमार के बारे में
डॉ. एस कुमार Appropriate Diet Therapy Centre के संस्थापक हैं । डॉ. एस कुमार पीएचडी होल्डर होने के साथ साथ “डॉक्ट्रेट ऑफ लिटरेचर” की डिग्री रसियन यूनिवर्सिटी से प्राप्त कर चुके हैं साथ ही 3 बार गोल्ड मेडलिस्ट भी रहे हैं । डायबिटीज की दुनियां में शोध करने के लिए उन्हें फ्रांस की सीनेट में भारत गौरव अवार्ड से सम्मानित किया जा चुका है। इतना ही नहीं डॉ. एस कुमार को लंदन की 200 साल पुरानी पार्लियामेंट में डायबिटीज पर शोध के लिए बेस्ट साइंटिस्ट के अवार्ड से भी नवाजा गया है।
डॉ. एस कुमार अभी तक कई किताबें भी लिख चुके हैं, जिनमें से एक पुस्तक को राष्ट्रपति भवन के पुस्तकालय में स्थान भी दिया गया है। भारत में Appropriate Diet Therapy Centre की 56 से अधिक शाखाएं संचालित हैं यदि आप भी संपर्क करना चाहते हैं तो दिए गए नंबर कॉल करें : +91 9372166486

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *