Monday, June 24, 2024
DELHI/NCR

दिल्ली बेबी केयर अग्निकांड के बाद मालिक गिरफ्तार, राहुल गाँधी और अरविन्द केजरीवाल ने जताई संवेदना

Delhi Hospital Fire Case: -दिल्ली बेबी केयर अग्निकांड में हॉस्पिटल के मालिक को गिरफ्तार कर लिया गया है। साथ ही उस दिन जो डॉक्टर ड्यूटी पर था उसकी गिरफतारी भी होने के बाद दोनों के लाइसेंस को रद्द कर दिया गया है। राहुल गाँधी और अरविन्द केजरीवाल ने इस मेल पर अपनी संवेदना भी व्यक्त की है।

Written By : Nisha Choudhary , National Khabar

दिल्ली के विवेक विहार इलाके में स्थित बेबी केयर न्यू बोर्न हॉस्पिटल में शनिवार रात करीब 11:30 बजे आग लग गई। यह आग तेजी से फैलकर आस-पास की दो इमारतों को भी अपनी चपेट में ले गई। दमकल विभाग को आग पर काबू पाने के लिए 16 दमकलों को तैनात करना पड़ा।

घटना के बाद अस्पताल के मालिक डॉक्टर नवीन किची फरार हो गए थे। हालांकि पुलिस ने डॉक्टर नवीन किची और उस रात ड्यूटी पर मौजूद डॉक्टर आकाश को गिरफ्तार कर लिया है।

इस हादसे में 7 नवजात शिशुओं की जान चली गई। वहीं 12 बच्चों को सुरक्षित निकाल लिया गया, जिनमें से 5 का इलाज दूसरे अस्पताल में चल रहा है। मृत बच्चों के माता-पिता का रो-रोकर बुरा हाल है।

दिल्ली सरकार ने इस अग्निकांड की मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दिए हैं। जांच का उद्देश्य जिम्मेदार व्यक्तियों की पहचान करना और भविष्य में इस तरह की घटनाओं को रोकने के उपाय सुझाना है।

इस घटना के बाद आस-पास के रहने वालों का कहना है कि उन्होंने पहले भी अस्पताल के सुरक्षा मानकों को लेकर शिकायतें दर्ज कराई थीं। उनका कहना है कि आवासीय इलाके में पहली मंजिल पर बच्चों का अस्पताल था, वहीं नीचे की मंजिल पर ऑक्सीजन सिलेंडर रखे हुए थे। यह एक दुर्घटना होने की प्रतीक्षा थी।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने इस घटना पर शोक जताते हुए X पर कहा कि, “दिल्ली में बेबी केयर अस्पताल में आग लगने से कई नवजात बच्चों की मृत्यु का समाचार अत्यंत हृदयविदारक है।
सभी शोकाकुल माता-पिता और परिजनों को मेरी गहरी संवेदनाएं। घायल बच्चों के जल्द से जल्द स्वस्थ और सकुशल होने की आशा करता हूं।”


साथ ही दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने भी X पर कहा कि “बच्चों के अस्पताल में आग की ये घटना हृदयविदारक है। इस हादसे में जिन्होंने अपने मासूम बच्चों को खोया उनके साथ हम सब खड़े हैं। घटनास्थल पर सरकार और प्रशासन के अधिकारी घायलों को इलाज मुहैया करवाने में लगे हुए हैं। घटना के कारणों की जाँच की जा रही है और जो भी इस लापरवाही का ज़िम्मेदार होगा वो बख्शा नहीं जाएगा”।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *