Wednesday, May 29, 2024
HEALTH

दूध पीने से होती है “डायबिटीज” :- डॉ एस कुमार

रिपोर्ट :- प्रज्ञा झा

1- दूध या दूध से बानी हुई चीजों का सेवन है हानिकारक
2- बढ़ी हुई शुगर नहीं है डायबिटीज
3- लोग ग़लतफहमी में ले रहे डायबिटीज का इलाज
4- लोगों को सम्पूर्ण टेस्टों के बारे में नहीं है जानकारी

डायबिटीज जिसे मधुमय या शुगर के नाम से जाना जाता है एक ऐसी बीमारी बन चूका है जो आजीवन साथ ही रहता है इससे छुटकारा पाना नामुमकिन प्रतीत होता है। क्या आपके मन में सवाल उठता है की लाखों की दवा साथ ही डॉटर्स के चक्कर और दर्जनों के हिसाब से इंसुलिन का सेवन आपके सेहत को ठीक करेगा भी या नहीं क्यूंकि ऐसा हो पता तो आपको फिर अस्पतालों के चक्कर क्यों लगाने पड़ते ।

भारत अब डायबिटीज मरीजों का एक हब बनता जा रहा है जहाँ से पुरे विश्व के 60% लोग डायबिटिक मरीज होते हैं। ऐसा इसलिए की यहाँ पर लोगों को पता ही नहीं है की उन्हें डायबिटीज सच में है भी या नहीं। गलती लोगों की भी नहीं है हर डॉक्टर जब यही कहेगा की आपको डायबिटीज है क्यूंकि आपकी शुगर बढ़ गयी है तो किसीको भी यही लगेगा की उसे अब तमाम जीवन दवा पर ही चलना है।

इस बीच में एक साइंटिस्ट हैं डॉ एस कुमार जो ये दवा करते हैं की भारत में जो भी लोग डायबिटीज के मरीज हैं वो भरम के कारण दवाओं का सेवन कर रहे हैं उन्हें जानकारी ही नहीं है की उन्हें डायबिटीज है या नहीं क्यूंकि वो बढ़ी हुई शुगर को डायबिटीज मान रहे हैं लेकिन ऐसा नहीं है। डायबिटीज होने का सबसे बड़ा कारण जो उन्होंने बताया वो चुकाने वाला था उन्होंने कहा की दूध का सेवन करने वालों में डायबिटीज होने की आशंका बढ़ जाती है। पूरी जानकारी के लिए दिया हुए लिंक पर क्लिक करें।

अब डॉ एस कुमार के बारे में जानते हैं
डॉ. एस कुमार Appropriate Diet Therapy Centre के संस्थापक हैं । डॉ. एस कुमार पीएचडी होल्डर होने के साथ साथ “डॉक्ट्रेट ऑफ लिटरेचर” की डिग्री रसियन यूनिवर्सिटी से प्राप्त कर चुके हैं साथ ही 3 बार गोल्ड मेडलिस्ट भी रहे हैं । डायबिटीज की दुनियां में शोध करने के लिए उन्हें फ्रांस की सीनेट में भारत गौरव अवार्ड से सम्मानित किया जा चुका है। इतना ही नहीं डॉ. एस कुमार को लंदन की 200 साल पुरानी पार्लियामेंट में डायबिटीज पर शोध के लिए बेस्ट साइंटिस्ट के अवार्ड से भी नवाजा गया है।
डॉ. एस कुमार अभी तक कई किताबें भी लिख चुके हैं, जिनमें से एक पुस्तक को राष्ट्रपति भवन के पुस्तकालय में स्थान भी दिया गया है। भारत में Appropriate Diet Therapy Centre की 56 से अधिक शाखाएं संचालित हैं यदि आप भी संपर्क करना चाहते हैं तो दिए गए नंबर कॉल करें : +91 937216648

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *