Friday, June 14, 2024
National

पांच राज्यों में से चार पर बीजेपी की जीत, पंजाब में झाडू ने किया कांग्रेस का सफाया

रिपोर्ट- भारती बघेल

आज सभी पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों के नतीजे आ चुके हैं जिसमें ये चार राज्यों में बीजेपी ने सरकार बनाई है वहीं पंजाब में आम आदमाी पार्टी ने बाजी मारी है हम एक एक करके सभी पांच राज्यों के बारे में बताएंगे। सबसे पहले बात कर लेते हैं यूपी की।

सीएम योगी ने जीत के साथ यूपी में रच दिया इतिहास

योगी आदित्यनाथ के हाथ में अब दोबारा उत्तर प्रदेश की बागडोर आ गई है। योगी के दोबारा CM पद की शपथ लेते ही यूपी विधानसभा से जुड़े कई रिकॉर्ड टूट जाएंगे। पहला और सबसे अहम रिकॉर्ड जो योगी के नाम होगा वो होगा लगातार दो बार सीएम बनने का। इसके पहले यूपी में चंद्रभानु गुप्ता और एनडी तिवारी लगातार दो बार सीएम बने, लेकिन वो दोनों ही अपना कार्यकाल पूरा नहीं कर सके थे।

आपको बता दें कि 20 मई 1950 को उत्तर प्रदेश विधानसभा का गठन हुआ था। 71 सालों में प्रदेश को 21 मुख्यमंत्री मिल चुके हैं। अब तक ऐसा किसी विधानसभा चुनाव में नहीं हो पाया है। यानी योगी आदित्यनाथ भारतीय जनता पार्टी के लिए बहुत ही लकी साबित हुए हैं।

योगी ने बनाये 7 नए रिकॉर्ड

1.UP विधानसभा के इतिहास में लगातार दूसरी बार वो CM बनने वाले पहले उम्मीदवार हैं।

  1. 5 साल का कार्यकाल पूरा करने वाले वो BJP के पहले मुख्यमंत्री हैं।
  2. BJP के शासन में पहली बार ऐसा हुआ, जब 5 साल तक एक ही व्यक्ति मुख्यमंत्री रहा है।
  3. सन् 2007 में मुलायम सिंह के बाद बतौर CM चुनाव लड़ने वाले पहले उम्मीदवार हैं।
  4. 34 साल से चल रहे नोएडा फैक्टर को तोड़ कर जीत हासिल करने वाले मुख्यमंत्री हैं।
  5. योगी लगातार दूसरी बार जीत हासिल करने वाले पांचवें CM बने हैं। इसके पहले 1957 में संपूर्णानंद, 1962 में चंद्रभानु गुप्ता, 1974 में हेमवती नंदन बहुगुणा और 1985 में एनडी तिवारी भी ऐसा कर चुके हैं।
  6. सीएम योगी 15 साल में पहले मुख्यमंत्री होंगे जो विधायक के रूप में शपथ लेंगे। उनके पहले 2007 में मायावती और 2012 में अखिलेश यादव ने विधान परिषद सदस्य रहते हुए मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी।

योगी की विजय भूमि है गोरखपुर सीट
गोरखपुर सदर सीट बीजेपी का गढ़ मानी जाती रही है। बीते 33 साल से यहां भाजपा का प्रत्‍याशी ही चुनाव जीतते देखा जा रहा है। गोरखपुर सदर सीट पर वोटर्स की संख्या फिलहाल 4 लाख 53 हजार 662 है। यहां योगी के प्रतिद्वंद्वियों में सुभावती शुक्ला (सपा), ख्वाजा शमसुद्दीन (बसपा) और चंद्रशेखर आजाद (भीम आर्मी) रहे। 1989 में यह सीट बीजेपी के शिव प्रताप शुक्ला ने जीती थी। तब से इस सीट पर भाजपा ही काबिज होती आ रही है।

उत्तराखंड में भी जीती बीजेपी
उत्तराखंड में विधानसभा की 70 सीटें हैं जिनमें से 47 सीटों पर बीजेपी ने जीत हासिल की है। इन चार राज्यों में जिस तरह भाजपा की जीत हुई है इसे देखकर साफ कहा जा सकता है कि जनता नरेंद्र मोदी को दोबारा पीएम बनाने के मन में है। वहीं उत्तराखंड के चुनावी नतीजों में जो चौंकाने वाली बात हुई है वो ये कि हरीश रावत को हार का मुंह देखना पड़ा है।

गोवा औऱ मणिपुर में भी लहरा बीजेपी का परचम
गोवा और मणिपुर में भी बीजेपी ने बाजी मारी है। एक के बाद एक जीत से बीजेपी के नेता और कार्यकर्ताओं में खुशी की लहर है। और शायद आपको मालूम हो कि पीएम मोदी ने कहा था कि होली से पहले होली मनाई जाएगी। उनकी ये बात सच हुई। आज लगातार चार राज्यों में जीत के साथ ही होली खेलते बीजेपी के कार्यकर्ताओं और नेताओं ने होली खेली

पंजाब में जीती आम आदमी पार्टी
पंजाब में इस बार आम आदमी पार्टी ने बाजी मारी है। आप की जीत से ये बात तो साफ हो गई है कि पंजाब की जनता पंजाब में भी दिल्ली जैसा विकास चाहती है। कांग्रेस का हाथ से सत्ता रेत की तरह फिसलने की वजह पार्टी की भीतरी फूट आंकी जा रही है। वहीं जो सबसे चौंकाने वाली बात जो यहां रही वो ये कि चन्नी, सिद्धू, अमरिंदर और बादल समेत सारे दिग्गज आप से हार गए। 30 साल में पहली बार ऐसा हुआ है जब बादल परिवार विधानसभा से बाहर हो गया ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *