Wednesday, May 29, 2024
HEALTH

पोषक तत्व और संतुलित खानपान से बनाएं खुद को जवान

रिपोर्ट: नेशनल खबर

उम्र बढ़ने के साथ बीमारियों का जोखिम भी बढ़ता है। 50 वर्ष की उम्र के बाद मधुमेह, रक्तचाप, थायरायड की आशंका बढ़ने लगती है। कुछ लोगों की सर्जरी भी हो चुकी होती है। सक्रियता कम होने से भूख भी कम लगती है। अगर किसी का वजन 70 किग्रा. है, तो उसे प्रतिदिन 2500 कैलोरी की आवश्यकता होती है।
अगर आपको इतनी कैलोरी नहीं मिल रही है, तो वजन में गिरावट स्वाभाविक है।


• पाचन शक्ति को रखें बेहतर: बढ़ती उम्र में पाचन शक्ति कमजोर हो जाती है। चेहरे पर झाइयां और कोशिकाएं कमजोर पड़ने लगती है। ऐसे में खानपान को लेकर सावधान रहने की जरूरत होती है।
• विटामिन बी 12 और विटामिन डी जरूरी: इस उम्र में विटामिन बी 12 और विटामिन डी की समस्या भी देखी जाती है। बी 12 की कमी होने से मांसपेशियों में ऐंटन, थकान और हाथों-पैरों में दर्द होने लगता है।
• खानपान का विशेष ध्यान हरी पत्तेदार सब्जियों, मौसमी फलों का सेवन अवश्य करें। रेडमीट से परहेज करें। हां, मछली का सेवन हृदय और फेफड़े के लिए बेहतर है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *