Tuesday, May 28, 2024
HEALTH

प्रोटीन की पूर्ति के लिए ट्राई करें ये फूड आइटम्स, डेली डाइट में भी कर सकते हैं शामिल

रिपोर्ट: नेशनल ख़बर

सेहतमंद रहने के लिए प्रोटीन का सेवन बहुत जरूरी होता है। प्रोटीन एक संतुलित आहार में अपनी अहम भूमिका निभाता है। शरीर में प्रोटीन की कमी से कई समस्याएं भी हो सकती हैं। ऐसे में यह बहुत जरूरी है कि हम स्वस्थ रहने के लिए अपनी डाइट में प्रोटीन की प्रचुर मात्रा शामिल करें।


तो चलिए आपको बताते हैं प्रोटीन के कुछ ऐसे सोर्सेस के बारे में, जिनको आप अपनी डेली डाइट में जोड़ सकते हैं।


बादाम
सेहतमंद रहने के लिए ड्राई फ्रूट्स का सेवन बहुत अच्छा माना जाता है। अगर आप अपने शरीर में प्रोटीन की पूर्ति पूरी करना चाहते हैं, तो इसके लिए हर रोज बादाम खाना फायदेमंद साबित होगा। प्रोटीन के साथ-साथ इसमें मौजूद हेल्दी फैट्स, फाइबर, विटामिन और खनिज से भी हमें काफी फायदा होता है। आप बादाम को दूध, ओट्स, शेक्स और सलाद में मिलाकर भी खा सकते हैं।


अंडे
अंडा प्रोटीन का सबसे बढ़िया स्त्रोत कहा जाता है। रोजाना अंडे खाने से सेहत को कई फायदे मिलते हैं। ऐसे में अपनी डाइट में प्रोटीन एड करने के लिए आप नियमित रूप से अंडों का सेवन कर सकते हैं। रोज अंडे खाने से न सिर्फ प्रोटीन की पूर्ति होती है, बल्कि यह मसल्स बनाने और हेल्दी वेट मेंटेन करने में भी मददगार साबित होता है।


दाल
दालों में भी प्रोटीन काफी अच्छी मात्रा में होती है। यही कारण है कि दाल प्लांट बेस्ड प्रोटीन का एक बढ़िया स्रोत है। आप प्रोटीन के सेवन के लिए विभिन्न प्रकार की दालों को खा सकते हैं। अलग-अलग तरह की दालों में अलग-अलग मात्रा में प्रोटीन पायी जाती है। ऐसे में अपनी डाइट में दाल को शामिल करना काफी फायदेमंद होगा।


बीन्स
पौष्टिक तत्वों से भरपूर बीन्स भी प्रोटीन का एक अच्छा स्रोत हैं। इसमें औसतन प्रति कप दस ग्राम के करीब प्रोटीन होता है। अगर आप शाकाहारी हैं, तो बीन्स आपके लिए प्रोटीन का एक परफेक्ट विकल्प साबित होगी। ऐसे में आप अपनी डेली डाइट में छोले, राजमा जैसे बीन्स जोड़ सकते हैं।

प्रोटीन पाउडर
प्रोटीन पाउडर भी प्रोटीन हासिल करने का एक अच्छा स्त्रोत है। इसे अपनी नियमित डाइट में जोड़ने से कई फायदे होते हैं। हालांकि, इसके सेवन की एक उचित मात्रा और सही तरीका ही इसे गुणवान बनाता है। इसलिए प्रोटीन पाउडर लेते समय उसकी गुणवत्ता पर विशेष ध्यान रखें। साथ ही इसमें मौजूद अतिरिक्त चीनी और अन्य योजकों से भी सावधान रहने की जरुरत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *