Thursday, June 20, 2024
National

मणिपुर हिंसा में पहुंचे राहुल गाँधी का काफिला रोका गया

रिपोर्ट :- प्रज्ञा झा

कांग्रेस नेता राहुल गाँधी फ़िलहाल मणिपुर के दौरे पर हैं और मणिपुर में हिंसा में आहात और विस्थापित हुए लोगों से मिलने के लिए चूड़ाचांदपुर पहुंचे हुए हैं | चूड़ाचंदपुर मणिपुर में जनजातीय हिंसा के चलते सबसे प्रभावित क्षेत्रों में से एक मन जा रहा है | जानकारी के लिए बता दें की चूड़ाचंदपुर जाते वख्त राहुल गाँधी के काफिले को बिच रस्ते में सुरक्षा बल द्वारा रोक दिया गया जिसके बाद सियासत शुरू हो चुकी है | कांग्रेस नेता सुप्रिया श्रीनेत का कहना है की राहुल गाँधी को जब पहले ही बाई रोड जाने की अनुमति दी गयी थी तो उनके काफिले को क्यों रोका गया | सुरक्षा बालों ने इंफाल से 20 किलोमीटर दूर बिष्णुपुर में रोक दिया गया जिसके बाद उन्हें चूड़ाचांदपुर हेलीकॉप्टर से जाने को कहा गया |

सुप्रिया श्रीनेत ने ये भी कहा की मणिपुर में अभी तक 130 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है , हज़ारों घर बिखर चुकें हैं और हज़ारों की संख्या में लोगों को विस्थापित किया गया है | इन सभी चीजों के लिए मणिपुर सर्कार जिम्मेदार है |
राहुल गाँधी फ़िलहाल चूड़ाचांदपुर पहुँच चुके हैं और जितने भी विस्थापित लोग थे उन सभी से मुलाकात भी कर चुके हैं|

इन सभी घटनाकर्म के बाद राहुल गाँधी का मोइरंग जाने का भी इरादा था लेकिन प्रशासन ने उन्हें मोइरंग जाने की इजाजत नहीं दी जिसके बाद मणिपुर से कांग्रेस अध्यक्ष कैशम मेघचंद्र का कहना रहा की प्रशासन ने उन्हें नहीं बाई रोड और ना ही बाई एयर जाने की इज्जाजत दी ” मुझे समझ नहीं आ रहा की आखिर वो राहुल गाँधी को रोक क्यों रहे हैं” | सवाल पूछे जाने पर पुलिस कर्मियों ने कहा की जहाँ राहुल गाँधी को रोका गया उससे कुछ आगे ही महिलाओं का प्रदर्शन चल रहा था | लगातार राहुल गो बैक नारे लगाए जा रहे थे | इसलिए हमे प्रदर्शनकारियों पर आंसू गैस के गोलों का भी इस्तेमाल किया गया है |

इन सभी घटनाक्रम के बाद बीजेपी नेता संबित पत्र का कहना रहा की राहुल गाँधी को चूड़ाचांदपुर जाने से नहीं रोक रहे लेकिन उन्हें हर घटना का संज्ञान लेने के बाद ही जाना चाहिए न की ज़िद करके | उन्हें इस बात की गंभीरता को समझना चाहिए |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *