योगी आदित्यनाथ का अनाथ बच्चों को तोहफा,हर बच्चे को 2500 रुपये देगी योगी सरकार

रिपोर्ट- भारती बघेल

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार एक योजना लाई है। आपको बता दें कि ये योजना उन बच्चों के लिए लायी जा रही है। जिन्होंने कोरोना के चलते अपने माता पिता को खो दिया। मिली जानकारी के मुताबिक सरकार ऐसे अनाथ बच्चों को 2500 रुपये की मदद करेगी। साथ ही आपको बता दें कि एक ही परिवार में अधिकतम दो बच्चों को लाभ मिलेगा। सोमवार को सीएम योगी की अगुवाई में एक कैबिनेट बैठक बुलाई गई जिसमें सीएम योगी ने खुद बाल सेवा योजना में संसोधन की मंजूरी दी। योगी सरकार ने ये सेवा कोविड में अनाथ हुए बच्चों के लिए शुरु की है। अभी तक ये बच्चे कई वजहों के चलते इस योजना से बाहर थे।

सरकार ने बढ़ाया दायरा
सरकार ने इस योजना का लाभ युवा वर्ग को भी देने का सोचा है। सरकार ने युवा वर्ग को दे भागों में बांटा है। एक 18 साल से कम के युवा और दूसरा जो 18 से 23 साल के बीच में हैं उनको बांटा गया है। साथ ही वो विद्यार्थी जो नीट, जेईई व क्लैट जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं को पास कर चुके हैं उनको भी इस योजना का लाभ मिलेगा।

और किन- किन को मिलेगा लाभ
अगर कोई महिला तलाकशुदा है तो उसे भी इस योजना का लाभ मिलेगा।
।.अगर किसी के माता पिता या घर का वो मुखिया जिसकी बदौलत घर चलता हो और अगर वो जेल में हो तो उसके परिवार को भी इस योजना का लाभ मिलेगा।
जिन बच्चों को बाल श्रम या भीख मांगने से मुक्त कराया गया हो उन बच्चों को भी इसका लाभ मिलेगा।

इससे पहले भी योगी सरकार ने एक योजना चलाई थी, जिसका नाम था बाल सेवा योजना। इस योजना के अंतर्गत उन अनाथ बच्चों को लाभ देना शामिल था जिन्होंने कोविड के चलते अपने माता या पिता में से किसी एक को खो दिया हो। इसके साथ ही आपको बता दें कि सीएम योगी ने उन बच्चों की मदद की भी घोषणा की थी जिन्होंने कोरोना के अलावा किसी और वजह के चलते अपने माता पिता को खो दिया। अब योगी कैबिनेट ने इस पर अपनी मुहर लगा दी है।

कहते हैं कि कुछ न से तो कुछ ही सही ठीक है। आज की मंहगाई में 2500 रुपये से कुछ नहीं होता। 2500 रुपये से तो शायद आज के वक्त में रहना खाना भी मुश्किल पड़ जाए। फिर हम इन चंद पैसों से एक उज्जवल भविष्य की कामना तो नहीं कर सकते। लेकिन उम्मीद यही है कि सरकार ने अगर इतना सोचा है तो आगे भी जरुर सोचेगी।

Leave a Comment