Monday, June 24, 2024
Jammu and Kashmir

रियासी आतंकी हमले के जीवित बचे लोगों का बयान, आतंकवादियों से बचाव के लिए किया मृत होने का नाटक!

Written By: Nisha Choudhary, National Khabar

जम्मू और कश्मीर के रियासी जिले में तीर्थयात्रियों को ले जा रही बस पर हुए आतंकी हमले के जीवित बचे लोगों ने उस खौफनाक पल को याद किया है। उन्होंने बताया कि आतंकियों ने कैसे अंधाधुंध गोलियां चलाईं और कैसे यात्रियों ने बचने के लिए मृत होने का नाटक किया।

शिव खोड़ी से वैष्णो देवी जाते समय बस को निशाना बनाया गया था। मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, हमलावरों ने कई तरफ से गोलियां बरसानी शुरू कर दीं। एक प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि गोलियों की बौछार करीब 20 मिनट तक चलती रही, जिसने उन्हें अनंत काल जैसा महसूस कराया।


एक जीवित बचे शख्स ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया, “माता वैष्णो देवी के दर्शन के बाद मैं शिव खोड़ी गया था। वहां से वापस आते समय, 4-5 किमी बाद हमारी बस पर गोलियां चलनी शुरू हो गईं। गोलियां रुकने का नाम ही नहीं ले रहीं थीं, यहां तक कि बस खाई में गिरने के बाद भी नहीं रुकीं।” उन्होंने आगे बताया कि “ड्राइवर को गोली लगी और फिर कुछ अन्य लोग भी घायल हो गए।”

जीवित बचे लोगों के अनुसार, गोलियों की बौछार इतनी तेज थी कि उन्हें लगा कि मानो यह हमेशा चलेगी। उन्होंने बताया कि लगभग 20 मिनट तक गोलियां चलती रहीं।
खुद को बचाने के लिए यात्री मृत होने का नाटक करने लगे। एक अन्य जीवित बचे शख्स ने बताया, “हमने तब तक मृत होने का अभिनय किया जब तक कि हमलावर वहां से चले नहीं गए।”

इस हमले में मारे गए लोगों में एक दो साल का बच्चा भी शामिल है। पुलिस और सुरक्षाबल तीनों लश्कर-ए-तैयबा आतंकवादियों की धरपकड़ के लिए व्यापक अभियान चला रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *