Sunday, April 14, 2024
DELHI/NCRNational

लिव इन पार्टनर ने प्रेमिका के 35 टुकड़े किए, फ्रिज में स्टोर करके रखे बॉडी पार्ट्स, 18 दिन तक टुकड़ों को जंगल में फेंकता रहा

नेशनल खबर, डेस्क रिपोर्ट

एक ओर हिन्दू विरोधी एजेंडे के तहत प्रचारित किया जा रहा है कि भारत में मुसलमान डरे हुए हैं, तो वहीं लव जिहाद का एक ऐसा खेल खेला जा रहा है जिसमें मुस्लिम युवकों द्वारा हिन्दू लड़कियों की जिन्दगी बर्बाद की जा रही है..रोज नए-नए मामले सामने आ रहे हैं.. कभी राजस्थान में एक अरशद नाम का लड़का स्वाति नाम की लड़की की गला काट कर हत्या कर देता है तो कभी गुजरात में नांदेड में यासिर खान पठान नाम का लड़का एक दलित लड़की को पहले दुबई भेजता है, देह व्यापार में धकेलने की कोशिश करता है और फिर चार महीने तक उसका यौन शोषण करता है। ऐसे लगातार न जाने कितने मामले आये दिन सामने आ रहे हैं, जो मुस्लिम कट्टरपंथियों के षड्यंत्रों को उजागर कर रहे हैं..

ऐसा ही एक केस दिल्ली से आया जो आपके दिल को दहला देगा। दिल्ली में 6 महीने पुरानी हत्या के मामले में सनसनीखेज खुलासा हुआ है। प्रेमी जिसका नाम आफताब बताया जा रहा है उसने लिव इन पार्टनर और अपनी प्रेमिका श्रद्धा की बेरहमी से हत्या कर उसके शव के 35 टुकड़े कर दिए और उन्हें 18 दिन तक महरौली के जंगल में फेंकता रहा।

26 साल की श्रद्धा मुंबई के मलाड की रहने वाली थी। यहां वह एक मल्टीनेशनल कंपनी के कॉल सेंटर में काम करती थी। श्रद्धा और आफताब दोनों कॉल सेंटर में काम करते थे। 2019 में यहीं दोनों की मुलाकात हुई। दोनों प्यार करने लगे, लेकिन दोनों के रिश्तों से परिवार वाले नाखुश थे। इसके चलते दोनों मुंबई से दिल्ली जाकर शिफ्ट हो गए और महरौली के एक फ्लैट में दोनों लिव इन में रहने लगे।

साउथ दिल्ली के जो एडिशनल डीसीपी है अंकित चौहान, उन्होंने कहा कि 18 मई को झगड़े के बाद आफताब ने श्रद्धा का गला दबाकर उसकी हत्या कर दी थी। इसके बाद उसने उसकी बॉडी के 35 टुकड़े कर दिए और उन्हें फ्रिज में रख दिया। पुलिस ने ये भी बताया कि वह हर रोज रात को 2 बजे घर से निकलता और टुकड़ों को दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में फेंक देता।

लव जिहाद एक ऐसी समस्या है जिसे लेकर अभी तक कई स्तरों पर मौन जारी है। कई राज्यों ने लव जिहाद के विरुद्ध कड़े कानून भी बनाये हैं, कई मामलों में कार्यवाही भी हुई है, लेकिन इसके उपरांत भी लव जिहाद के मामले कम होते नहीं दिखाई दे रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *