सालों के इंतज़ार के बाद और अनगिनत बलिदान के बाद राम आ गए : PM मोदी

प्राण प्रतिष्ठा के बाद लोगों को सम्बोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राम लला को लेकर प्रधान मंत्री मोदी ने कहा की हमारे राम को अब एक भव्य मंदिर मिल गया अब उन्हें किसी टेंट में रहने की जरुरत नहीं होगी अब वो एक भव्य मंदिर में रहेंगे। अभी जो घटित हुआ है उसकी अनुभूति विश्व के हर कोने के भक्तों को हो रही होगी। ये पल ये छण भगवान का हम सभी पर कृपा है।

Written By: Pragya Jha

हाईलाइट्स


1 आज हमें राम मंदिर मिले
2 भगवान को टेंट में नहीं रहना होगा
3 आज पूरे देश में दिवाली मनाने का महोत्सव है
4 सागर से सरयू तक 11 दिन में उन जगहों का चरण स्पर्श किया जहाँ भगवन राम के कदम पड़े
5 भरवान्ते यस्विन इति राम “राम हर जगह समाए हैं “
6 राम आग नहीं ऊर्जा है

आज हमे राम का मंदिर मिला है


22 जनवरी के प्राण प्रतिष्ठा के बाद अपने भाषण के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने कहा की आज सालों के इंतज़ार और अनगिनत बलिदान के बाद आज हमें ये मौका मिल है की हम इस पल के साक्षी बने। ये भगवान राम की हम सभी पर कृपा है। अब भगवन राम को किसी टेंट में नहीं रहना होगा अब वो एक दिव्या मंदिर में रहेंगे। जहाँ भगवान राम होंगे वहां हनुमान भी होंगे साथ ही लक्ष्मण ,भरत और सत्रुघन मैं उन सभी को धन्यवाद देना चाहता हूँ जिन लोगों ने हमें इस छण को पाने में मदद की है। आज हमें राम मिल गए हैं।


आज पूरे देश मैं दिवाली


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने सम्बोधन के दौरान देश के माहौल का भी जीकर किया उन्होंने कहा की आज देश में दिवाली का माहौल है। हर घर में दिए भी जलाए जाएंगे और साथ ही सभी के घरों में वही ख़ुशी है जो दिवाली पर होती है।


11 दिन में सुना सभी रामायण


प्रधानमंत्री ने अपने भाषण के दौरान 11 दिन में किए गए कार्यों के बारे में बताते हुए कहा की 11 दिन में मैं व्रत के दौरान कई जगहों पर गया ये यूँ कहूं की उन जगहों पर गया जहाँ भगवान राम के कदम पड़े और वजह जाकर आशीर्वाद भी लिया। इसके साथ मेने 11 दिनों तक भारत में
जितने तरीके के रामायण हैं उन्हें भी सुना। तो ऐसे मेने तय किया सागर से सरयू का सफर।


भरवान्ते यस्विन इति राम इस श्लोक को बताते हुए उन्होंने कहा की भगवान राम सृष्टि के हर कोने में है वो हम सभी में हैं।


विपक्ष पर PM मोदी वार


पीएम नरेंद्र मोदी अपने भाषण के दौरान ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए भी नज़र आ रहे हैं। उन्होंने कहा की कुछ लोग कहते हैं की राम मंदिर बना तो आग लग जाएगी लेकिन ऐसा नहीं है ये मंदिर कैसे सबको उज्वल कर रहा है ये सब देख रहे हैं । राम आग नहीं ऊर्जा हैं, राम विवाद नहीं राम समाधान हैं, राम सिर्फ वर्तमान ही नहीं अन्नतकाल है
कई देश अपने ही इतिहास में उलझ जाते हैं |


प्रधानमंत्री ने अपनी बात को आगे रखते हुए कहा की विश्व में कई ऐसे देश हैं जो अपने ही इतिहास में उलझ कर रह गए हैं लेकिन हमारे देश ने अपनी इतिहास की गांठ को जिस तरीके से खोला हैं ये एक साक्ष्य हैं जो बताता हैं की भारत का आने वाला भविष्य अतीत से उज्जवल हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *