Wednesday, May 29, 2024
HEALTH

90% लोगों को डायबिटीज नहीं है,आखिर ये दावा क्यों किया गया : Scientist Dr. Kumar

रिपोर्ट :- = प्रज्ञा झा

मधुमय आज कल तेजी से फैलने वाली बिमारियों में से एक बन चूका है। किसी भी व्यक्ति को डायबिटीज तब होती है जब उसके शरीर में इन्सुलिन का निर्माण नहीं होता या अगर होता भी है तो इन्सुलिन का इस्तेमाल सही तरह से शरीर में नहीं हो पाता है। टाइम्स ऑफ़ इंडिया की एक रिपोर्ट के मुताबिक भारत में अभी तक 67 मिलियन डायबिटीज पेशेंट मौजूद हैं। आज कल हम देख पाते हैं की ना सिर्फ बूढ़े बल्कि बच्चों में भी डायबिटीज पाई जा रही है। लोग इस बीमारी से खासा परेशां हो चुके हैं। अधिकतर हम देखते हैं की अगर किसीके परिवार में कोई मधुमय का मरीज़ है तो डायबिटीज होने की संभावनाए बढ़ जाती है।

इन सभी चर्चाओं के बीच जो सबसे बड़ी बात आती है वो ये की क्या आपको सुच में डायबिटीज है या नहीं क्यूंकि अपपोषयते डाइट थेरपी सेंटर के संस्थापक और शोधकर्ता डॉ एस कुमार का ये दावा है की आपको ना ही डायबिटीज है और ना ही इंसुलिन लेने की जरुरत है। सबसे चौकाने वाली बात उन्होंने कही की अगर आप फल या दूध का सेवन करते हैं तो आपको डायबिटीज हो सकती है। ये एक बहुत बड़ा बयान डॉ एस कुमार द्वारा दिया गया है। इस खास दावे की जानकारी लेने के लिए नेशनल खबर की टीम पहुंची उनके सेंटर पर और उनसे बात चीत के दौरान कई बातों का ख़ुलासा हुआ है पुरे साक्षात्कार में कई सवाल के ऐसे जवाब मिले जिसे समझ पाना और अपनाना थोड़ा मुश्किल है

साक्षात्कार में पूछे गए मुख्य प्रश्न :

1– क्या है डायबिटीज ? और क्या है नया शोध ?
2- क्या है डायबिटीज को जाने के सारे टेस्ट ?
3- C-Peptide से कैसे पाता चलता है डायबिटीज ?
4 -दूध क्यों नहीं पीना चाहिए ?

अधिक जानकारी के लिए लिंक पर क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *