Friday, June 14, 2024
DELHI/NCR

Delhi Horror: ऐसी मौत, जिसने इंसानियत जो झकझोर कर रख दिया, हड्डियां चकनाचूर हो गईं, शरीर में खून का एक भी कतरा न बचा

रिपोर्ट: मानसी त्यागी

दिल्ली में फिर एक ऐसा हादसा जिसने पूरे देश को अंदर से झकझोर कर रख दिया है।

दिल्ली के कंझावला में एक युवती हुई दर्दनाक बर्बरता का शिकार।

ऐसी ही घटनाएं हर दिन यह साबित करती जा रही है कि भारत की राजधानी वाकई में महिलाओं के लिए बिल्कुल भी सुरक्षित नहीं है।

दिल्ली की सड़कों पर अंजली नाम की युवती को गाड़ी से पूरे 12 किलोमीटर तक घसीटा गया जब इसकी जानकारी पुलिस को लगी तो पुलिस युवती का शव देखकर दहल गयी क्योंकि शव के ऊपर एक भी कपड़ा मौजूद नहीं था।

–घटना का सार

जहां पूरा देश नए साल 2023 के आगाज़ की खुशी मना रहा था, वही 31 दिसंबर की रात 20 वर्षीय एक युवती अपने साथ हुई बर्बरता का सामना कर रही थी।
आपको बता दे, रात करीब 2 बजे अंजलि और उसकी दोस्त नए साल की पार्टी कर होटल से निकली थी, दोनों स्कूटी पर सवार थी।
हालांकि, पहले स्कूटी अंजली की दोस्त चला रही थी लेकिन कुछ समय बाद अंजलि ने अपनी दोस्त से कहा कि स्कूटी वह चलाएगी, कुछ समय बाद जब वह थोड़ा आगे पहुंची तभी अंजलि की स्कूटी एक ग्रे रंग की बलेनो गाड़ी से टकरा गयी ।
जिसमें पीछे बैठी अंजलि की दोस्त को साइड से टक्कर लगी जिसमें थोड़ी बहुत चोट आई, और वही स्कूटी चला रही अंजलि का पैर गाड़ी के एक्सेल में फस गया।
गाड़ी में बैठे हुए आरोपियों ने बिना ध्यान दिए बिना चीख-पुकार सुने हुए अंजलि को पूरे 12 किलोमीटर तक घसीटा।

होटल के मैनेजर का क्या दावा ?

जिस होटल में अंजली और उसकी दोस्त पार्टी करने के लिए पहुंची थी, वही के मैनेजर ने बताया है कि अंजलि और उसकी दोस्त पार्टी करने के लिए समय से पहले पहुंची थी, दोनों ही शराब के नशे में थी और देखते ही देखते उन दोनों के बीच किसी बात को लेकर कहासुनी हुई, जिसमें दोनों एक दूसरे के साथ गाली गलौज करने लगी इसी के चलते उन दोनों को होटल से बाहर भी निकाला गया था।

–कैमरा फुटेज

जैसे ही दिल्ली पुलिस ने कंझावला केस की जांच पड़ताल करनी शुरू की है, उसी में पुलिस को इस घटना के क्रम के अनुसार लगभग 6-7 कैमरे की फुटेज हाथ लगी है किसी मे युवतीया स्कूटी पर सवार नजर आ रही है, किसी में स्कूटी के पास बलेनो कार नजर आ रही है, तो किसी फुटेज में गाड़ी में युवती का पैर फंसा हुआ दिखाई दे रहा है और एक फुटेज में नजर आया है कि अंजलि के साथ बैठी उसकी दोस्त मौके पर ही वहां से भाग निकली और अंजलि का पैर गाड़ी में फंसा है और गाड़ी उसे घसीटते चली जा रही है।

– पीड़िता की दोस्त का बयान

पीड़िता की दोस्त ने अपना नाम निधि बताया है साथ ही निधि ने काफी चौंका देने वाला बयान कहा है उसने कहा है कि जब मैं अंजलि को स्कूटी नहीं चलाने दे रही थी तो अंजलि ने मुझे धमकी दी थी कि वह चलती हुई स्कूटी से नीचे कूद जाएगी।
निधि ने कहा है कि मैं उस दिन को कभी भी नहीं भुला पाऊंगी, मृतक युवती की दोस्त ने अपने बयान में आगे यह बताया है कि हम दोनों की स्कूटी चलाने के ऊपर बहुत लड़ाई अभी हुई थी और साथ ही हम एक ट्रक से टकराने से बाल-बाल बचे थे, लेकिन फिर कुछ ही दूरी पर एक गाड़ी ने हमें टक्कर मार दी, मैं स्कूटी की दूसरी तरफ जा गिरी , मेरी आंखों पर हल्की सी चोट आई और अंजलि का पैर गाड़ी में फस गया ।
साथ ही निधि ने यह भी बताया कि उस गाड़ी में कोई भी गाने नहीं बज रहे थे इसके बावजूद भी गाड़ी में सवार लोगों ने अंजलि की चीख को अनसुना किया और न तो गाड़ी को धीमा किया और ना ही उसे बचाने की कोशिश की।

आखिर मृतका की दोस्त निधि ने परिवार या फिर पुलिस को जानकारी क्यों नहीं दी ?

जब निधि से पूछा गया कि इतना दर्दनाक हादसा उनकी आंखों के सामने हुआ फिर भी उन्होंने इसकी जानकारी पुलिस को और अपने परिवार वालों को क्यों नहीं दी तब इस पर मृतका की दोस्त ने कहा कि वह बहुत डर गई थी उसे डर लग रहा था कि पूरी घटना का और इस पूरे हादसे का इल्जाम उसके सर पर आ जाएगा, इसीलिए वह चुपचाप घर की तरफ भाग गई

– मृतका के परिवार ने क्या कहा?

इस पूरी घटना का परिवार को पता चलने के बाद मृतका के परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है ,मृतका की मां ने बताया कि परिवार में अंजली एकमात्र कमाने वाली थी, साथ ही मृतका की मां ने यह भी सवाल खड़ा किया है कि अंजलि ने इतने कपड़े पहने हुए थे लेकिन शव पर एक भी कपड़ा मौजूद नहीं था ऐसा कैसे हो सकता है। अंजली की मां ने अपनी बेसुध हालत में यह बताने की कोशिश की है कि उनकी बेटी की मौत रेप जैसी दरिंदगी के कारण हुई है।

– शव की हालत

पुलिस ने जब मृतका का शव देखा तो उनका भी दिल दहल गया, पुलिस ने बताया कि शव की ऐसी हालत थी जिसे पहचाना तो दूर देखना भी बहुत मुश्किल था, शरीर नग्न अवस्था में था शरीर में एक भी खून की बूंद नहीं बची थी और ना ही शरीर पर एक भी कपड़ा मौजूद था, कमर से नीचे तक का हिस्सा रगड़ लगने से जल चुका था आगे पुलिस ने यह भी बताया कि शरीर का कोई भी सा ऐसा नहीं था जिसकी हड्डी ना टूटी हो मृतका का एक पैर गायब था और दूसरा पैर पूरी तरह टूट कर घूम चुका था, और शरीर के कुछ अंदरूनी अंग भी नही थे।
पुलिस ने शव को देखते हुए यह भी कहा कि उन्होंने आज तक भी ऐसा केस कभी नहीं देखा।

– आरोपियों का विवरण

पुलिस की जानकारी के मुताबिक हादसे के वक्त बलेनो गाड़ी में पांच युवक मौजूद थे जी ने दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है उन आरोपियों के नाम कुछ इस प्रकार हैः
दीपक खन्ना (26) जो ग्रामीण सेवा का बस चालक है,
अमित खन्ना (25) उत्तम नगर में क्रेडिट कार्ड बनाने के काम में शामिल है,
कृष्णन (27) कनॉट प्लेस में स्पेनिश क्लचर सेंटर में काम करता है,
मिथुन(26) नाई का काम करता है और
मनोज मित्तल (27) स्थानीय इलाकों में राशन डीलर के काम में शामिल है

– आरोपियों का बयान

आरोपियों ने अपने बयान में कहा है कि अमित अपने दोस्त के यहां से न्यू ईयर की पार्टी में जाने के लिए गाड़ी लेकर आया था और पांचों का प्लान उसी गाड़ी से मुरथल जाने का था लेकिन मुरथल में बहुत भीड़ होने के कारण उन्हें खाना नहीं मिल पाया तो वह वापस आ गए और उन्होंने गाड़ी में ही शराब पीनी शुरू कर दी, आपको आगे आरोपियों का बयान बताएं तो उन्होंने कहा कि मिथुन गाड़ी की लेफ्ट साइड बैठा था जैसे ही वह यू–टर्न कर रहे थे तो उन्हे लड़की का हाथ दिखा, तभी पांचों ने गाड़ी से नीचे उतर कर देखा और वहां से भाग गए, हालांकि उन्होंने जिस से गाड़ी ली थी उसे बता दिया था कि उसकी गाड़ी से एक्सीडेंट हुआ है लेकिन आरोपियों ने यह नहीं कहा कि एक्सीडेंट काफी बड़ा हुआ है, आरोपियों के पूरे बयान को पुलिस वेरीफाई कर रही है।

– कौन कौन सी धारा पर दर्ज किया गया केस

आरोपियों की गिरफ्तारी होने के तुरंत बाद से ही पूरा देश उन्हें फांसी पर चढ़ाने की मांग कर रहा है इसी बीच पुख्ता सबूत ना जुटाने पर पुलिस ने फिलहाल कुछ धाराओं में आरोपियों पर केस दर्ज किया है जिसमें 279, 304, 304ए, और 120 बी के तहत पुलिस द्वारा केस दर्ज किया गया है हालांकि पुलिस ने यह भी कहा है कि अभी केस की जांच पड़ताल जारी है कुछ सबूत मिलने पर और भी धाराओं को जोड़ दिया जाएगा।

– गृह मंत्री अमित शाह ने मांगी विस्तृत रिपोर्ट

इस दर्दनाक हादसे को लेकर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सख्ती दिखाते हुए, दिल्ली पुलिस से मामले की जांच जल्द से जल्द पूरी करने कि मागं की है और कहा है आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा दी जाए, मामले की गंभीरता को समझते हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली पुलिस से जल्द से जल्द एक डीटेल्ड रिपोर्ट की भी मांग की है।

– पोस्टमार्टम रिपोर्ट

मृतका की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में अभी तक कोई भी ऐसी जानकारी नहीं मिली है कि उसके साथ रेप की कोशिश की गई हो, आपको बता दें कि अंजलि का पोस्टमार्टम तीन डॉक्टरों के एक पैनल ने किया है। हालांकि बताया जा रहा है कि यह पोस्टमार्टम की शुरुआती रिपोर्ट है, सूत्रों के मुताबिक पता चला है कि अभी एफएसएल रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है जिसमें पूरी तरह से बॉडी का खुलासा होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *