Wednesday, May 29, 2024
National

उदयनिधि स्टालिन के “सनातन धर्म” पर बयान से भड़की भाजपा कहा INDIA का हिन्दू विरोधी चेहरा हुआ उजागर

रिपोर्ट :- प्रज्ञा झा

तमिल नाडु के मुख्यमंत्री ऍम के स्टालिन के बेटे उदयनिधि स्टालिन के सनातन धर्म पर दिए गए बयान से भाजपा भड़क उठी है। दरअसल उदयनिधि स्टालिन ने “सनातन धर्म को डेंगू, मलेरिआ और कोरोना जैसी बीमारी से तुलना करते हुए कहा की इसे खत्म कर देना चाहिए” उन्होंने कहा की सनातन धर्म समानता और सामाजिक न्याय के विरोध काम करता है। सनातन धर्म के सिद्धांतों ने लोगों को धर्म और जाती में तोड़ दिया है। इस बयान से भड़की भाजपा ने तमाम तरह के आरोप और बयान दिए हैं। उद्यानिधि स्टालिन के बयान के बाद कांग्रेस ने किनारा कर लिया है। साथ ही RJD ने इस बयान पर मांफी मांगने की मांग की है।

भाजपा प्रवक्ता सहजाद पूनावाला ने इस बयान को लेकर कहा की INDIA का हिन्दू विरोधी चेहरा सामने आ रहा है जिस तरह से उदयनिधि स्टालिन ने सनातन धर्म को लेकर बयान दिया और इसकी तुलना बिमारियों से की ये दिखता है की जिस धर्म को देश के 80 % लोग फॉलो करते हैं ये उस धर्म को और उन लोगों को खत्म करना चाहते हैं।

बीजेपी के आईटी सेल चीफ अमित मालवीय ने कहा की कांग्रेस मोहब्बत की दुकान की बात करती है लेकिन कांग्रेस के सहियोगी DMK के वंशज हिन्दू धर्म को खत्म करने की बात कर रहे हैं। कांग्रेस अपनी चुप्पी से ये साबित कर रही है की वो इस नरसंहार आवाहन का स्वीकार करती है। INDIA गठबंधन का बस चले तो वो सालो पूराने भारत का भी खत्म कर देंगे।

भजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा ने सवैया लहजे में कहा की भले ही उदयनिधि स्टालिन ने जो भी कहा वो INDIA अलायन्स के स्ट्रेटेजी के तहत हो सकता है लेकिन क्या आप इस स्ट्रेटेजी का उपयोग आने वाले चुनाव में करने वाले हैं। आप वख्त वख्त पर लोगों का दिखते रहते हैं की आप हमारे देश से जुडी हुई चीजों से कितनी नफरत करते हैं। आपकी महोब्बत की दूकान सिर्फ नफरत ही फैलती है।

गृह मंत्री अमित शाह ने कहा की वो कहते हैं की अगर मोदी जीता तो सनातन धर्म भी वापस आ जाएगा। भारत सिर्फ संविधान के हिसाब से ही चलेगा। कांग्रेस और DMK लीडर ये सब बस वोट बैंक के लिए कर रहे हैं।

भाजपा सांसद सुधांशु त्रिवेदी ने कहा की उदयनिधि स्टालिन के इस बयान के बाद महोब्बत की दूकान का चेहरा साफ नज़र आ रहा है। ये कोई आइसोलेशन में दिया गया बयान नहीं है। INDIA गठबंधन की मीटिंग के 24 घंटे बाद ही ये बयान दिया गया है। इसपर विस्तार से बात होनी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *