Wednesday, May 29, 2024
Uncategorized

क्या INDIA का नाम बदल कर हो सकता है भारत ?

रिपोर्ट :- प्रज्ञा झा

इंडिया का नाम बदल कर भारत करने के अटकलों के बीच देश की राजनीति कुछ इस तरह गरमाई है की विपक्षी पार्टियों ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा की बीजेपी INDIA गठबंधन से पूरी तरह डर चुकी है। वो बौखला चुकी है इसलिए अपने देश का नाम ही बदल देना चाहती है। विपक्ष की तरफ से सवाल पूछे जा रहे हैं की आखिर कौन ऐसा करता है की अपनी मातृभूमि का नाम ही बदल दे। दरअसल ये पूरा मामला राष्ट्रपति के एक आमंत्रण पत्र से छिड़ा है।

देश में G20 की समिट को लेकर राजधानी में तैयारियां बरक़रार है सही डेलीगेट्स को जो आमंत्रण पत्र भेजे गए हैं उन पर लिखा है प्रेजिडेंट ऑफ़ भारत , जिसके बाद विपक्षी पार्टियों ने केंद्र सरकार पर ये बोलकर निशाना साधना शुरू किया की आखिर कौन अपने देश का नाम बदलता है। कई लोगों ने तो संविधान का हवाला देते हुए ये भी कहा की संविधान के आर्टिकल 1 में लिखा है INDIA that is भारत तो आखिर कैसे केंद्र सरकार ये फैसला ले सकती है।

आम आदमी पार्टी की संस्थापक मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने x पर ट्वीट करते हुए लिखा की “INDIA गठबंधन से ये लोग बौखला गए हैं और इसलिए देश का नाम बदलना चाहते हैं , अगर बाद में हम लोग अपने गठबंधन का नाम भारत रख दें तो इन्हे वो भी बदलने में कोई तकलीफ नहीं होगी। आप संसद संजय सिंह ने कहा की कहा कहा से ये लोग इंडिया हटाएंगे ” रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया में भी तो इंडिया है क्या उसे भी हटा देंगे ” क्या मोदी सरकार तीसरी नोटबंदी करने का प्लान कर रही है।

इसके बाद कांग्रेस की तरफ से दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह ने कहा की जिनके पास कोई इतिहास नहीं होता वो इतिहास बनाने की कोशिश करते हैं। संविधान में साफ लिखा है INDIA जिसे भारत के नाम से भी जाना जाएगा।

ऐसी के साथ कांग्रेस की प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने भी इस मुद्दे को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा उन्होंने कहा की बीजेपी INDIA गठबंधन से बोखला गयी है और इसके लिए वो मातृ भूमि का नाम भी बदल देना चाहती है।

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्य ठाकरे के भी कुछ ऐसे ही तेवर नज़र आए उन्होंने कहा की INDIA गठबंधन ने भारत जोड़ो यात्रा , खेलो इंडिया , स्किल इंडिया और जोड़ो भारत जुड़ेगा इंडिया का नारा देकर विपक्ष को समझाया की देश का नाम सिर्फ इंडिया ही नहीं बल्कि भारत भी है।

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का केंद्र पर निशाना साधने का अंदाज़ कुछ यूँ था की अचानक ऐसा क्या हो गया की देश का नाम भारत रखने की जरुरत पड़ गयी।

बिहार के डिप्टी CM तेजस्वी यादव का कहना रहा की भाजपा इंडिया गठबंधन से डर गयी है कितना पैसा खर्च करेंगे आप लोग। ये सब भूल रहे हैं की संविधान में लिखा है की भारत को INDIA नाम से भी पुकारा जा सकता है।

नाम बदलने की अटकलों के बीच कुछ ऐसी भी आवाजें है जो इसके समर्थन में उठ रही हैं।

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने इस फेशल को अंग्रेजी मानसिकता पर वॉर बताया तो वहीं ISKCON संस्था ने इस नाम को सराहा। साथ ही फ़िल्मी जगत के और खेल जगत के कई लोगों ने इस नाम का आवाहन किया और सरकार के फैसले को सही ठेकराया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *