यूपी की सियासत ने लिया नया मोड़, भाजपा छोड़ सपा में शामिल हुए स्वामी प्रसाद मौर्य?

रिपोर्ट- भारती बघेल

यूपी की सियासत ने एक बहुत ही दिलचस्प मोड़ ले लिया है। पांच साल से बीजेपी में रह रहे खास मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने आखिरकार बीजेपी का दामन छोड़ दिया है। आपको बता दें कि मंगलवार की सुबह को स्वामी प्रसाद मौर्य ने सपा मुखिया अखिलेश यादव से मुलाकात की। इस मुलाकात के बाद ही उन्होंने राज्यपाल को कैबिनेट मंत्री पद से इस्तीफा भेज दिया। उनका सपा में जाना लगभग तय हो गया है।

स्वामी प्रसाद मौर्य उप्र की राजनीति में सबसे चर्चित चेहरा हैं। वे योगी सरकार में श्रम एंव सेवायोजन मंत्री का पद संभाल रहे थे, जबकि उनकी बेटी डॉ. संघमित्रा मौर्य भाजपा से ही बदायूं की सांसद हैं। मंगलवार को पहले चरण की सीटों के प्रत्याशियों को लेकर हुई बैठक में भाग लेने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह सहित सभी बड़े नेता दिल्ली रवाना हुए कि स्वामी प्रसाद मौर्य ने विक्रमादित्य मार्ग स्थित जनेश्वर मिश्र ट्रस्ट का रुख कर लिया।

वहां हुई मुलाकात की तस्वीर सपा मुखिया ने ट्वविटर पर डाली ही थी कि स्वामी के खास माने जाने वाले शाहजहांपुर से भाजपा विधायक रोशन लाल वर्मा, स्वामी प्रसाद का कैबिनेट पद से इस्तीफा लेकर राजभवन पहुंच गए…इससे साफ हो गया कि रोशन लाल भी पार्टी छोड़ेंगे। इसी बीच कानपुर के बिल्हौर से भाजपा विधायक भगवती प्रसाद सागर और बांदा की तिंदवारी से जो विधायक हैं बृजेश कुमार प्रजापति उन्होंने भी इस्तीफा दे दिया।

यह है स्वामी प्रसाद मौर्य के त्यागपत्र में
मा. मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ जी के मंत्रिमंडल में श्रम एंव सेवायोजन एवं समन्वय मंत्री के रुप में विपरीत हालात व विचारधारा में रहकर भी मनोयोग के साथ उत्तरदायित्व का निर्वहन किया है, लेकिन दलितों, पिछड़ों, किसानों, बेरोजगार नौजवानों एवं छोटे- लघु एवं जो मध्यम श्रेणी के व्यापारी हैं उनके प्रति घोर उपेक्षात्मक रवैये के कारण उत्तर प्रदेश के मंत्रिमंडल से इस्तीफा देता हूं।

अखिलेश यादव ने मौर्य का किया स्वागत
मंत्री पद से इस्तीफा देने वाले स्वामी प्रसाद मौर्य का सपा में स्वागत करते हुए पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने कहा कि उनकी पार्टी सामाजिक न्याय और समता-समानता की लड़ाई लड़ने वाले लोकप्रिय नेता स्वामी प्रसाद मौर्य एवं उनके साथ आने वाले अन्य सभी नेताओं, कार्यकर्ताओं और समर्थकों का सपा में ससम्मान हार्दिक स्वागत एवं अभिनंदन!

अखिलेश ने कहा कि सामाजिक न्याय का इंकलाब होगा- बाइस में बदलाव होगा। इस बार सभी शोषितों, वंचितों, उत्पीड़ितों, उपेक्षितों का मेल होगा और भाजपा की बांटने और अपमान करने की जो राजनीति है उसके खिलाफ सपा की सबको सम्मान देने वाली राजनीति का इंकलाब होगा।

मुलायम बोले, आपकी लगन से तय है सपा की जीत
लगातार दूसरे दिन करीब साढ़े तीन बजे सपा मुख्यालय पहुंचे पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने कार्यकर्ताओं के साथ बैठकर उन्हें समाजवादी पार्टी की सरकार बनने के लिए जुटने का संकल्प दिलाया। जोश से भरे कार्यकर्ताओं ने जिंदाबाद के नारे लगाए। मुलायम ने कहा, आप अच्छा काम कर रहे हैं, ऐसे ही लगे रहेंगे तो आगामी चुनावों में सपा की जीत तय है।

केशव प्रसाद मौर्य ने किया ट्वीट
स्वामी प्रसाद मौर्य के इस्तीफे की खबर से भाजपा में दिल्ली तक हलचल मच गई। उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने ट्वीट किया- आदरणीय स्वामी प्रसाद मौर्य जी ने किन कारणों से इस्तीफा दिया है, मैं ये नहीं जानता हूं। उनसे मेरी अपील है कि बैठकर बात करें। जल्दबाजी में जो फैसले लिए जाते हैं वो अक्सर गलत साबित होते हैं।

Leave a Comment