Friday, July 12, 2024
Technology

Google play store से Application को हटाने पर सरकार ने जताई नाराजगी, कहा – Delete करने की नहीं है अनुमति

सरकार ने गूगल द्वारा कुछ Application को Play Store से हटाने पर कडा रूख अपनाया है। केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव का कहना है कि application को Delete करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। इसके साथ ही मंत्री अश्विनी वैष्णव ने यह भी बताया कि सरकार ने विवाद सुलझाने के लिए गूगल प्ले स्टोर से हटाएं गए ऐप्स को अगले सप्ताह बैठक के लिए बुलाया।

Written By: Shridhi, Edited By: Pragya Jha

सरकारी: हाल ही में Google ने एक बड़ा कदम उठाते हुए Play Store से 10 application को डीलिस्ट कर दिया था । जिसके बाद सरकार ने Google द्वारा कुछ Application को Play Store से हटाने पर कडा रूख अपनाया है। केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव का कहना है कि ऐप्स को डिलीट करने की करने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

Store से हटाने पर कडा रूख अपनाया है। केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव का कहना है कि application को डिलीट करने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

इसके साथ ही मंत्री अश्विनी वैष्णव ने भी बताया कि सरकार ने विवाद सुलझाने के लिए Google play store से हटाएं गए ऐप्स को अगले सप्ताह बैठक के लिए बुलाया।

Google ने हटाएं ये application

इन्फो एज ( इंडिया) लिमिटेड ने शनिवार को कहा कि उसके मोबाइल एप को Google play store से हटा दिया गया है, जिनमें naukri.com,99 एकड़.काॅम और shiksha.com शामिल हैं। ऐसा एक दिन बाद हुआ है। जब Google ने सेवा शुल्क भुगतान पर विवाद को लेकर इंडिया में अपने प्ले स्टोर से लोकप्रिय मैट्रिमोनी application साहित कुछ ऐप्स को हटाना शुरू कर दिया था।
Google ने कहा है कि देश कई 10 company ने प्लेटफार्म से लाभ होने के बावजूद शुल्क का भुगतान करने से परहेज़ किया है, जिनमें कई अच्छी तरह से स्थापित कंपनियां भी शामिल हैं।।

बिना किसी नोटिस के किया गया बदलाव

इन्फो एज ( भारत) लिमिटेड ने Bse फाइलिंग में कहा कि हम आपको सूचित करना चाहेंगे कि आज Google द्वारा कंपनी के मोबाइल application ( नौकरी.काॅम जाॅब सर्च ऐप, नौकरी रिक्रूटर, नौकरीगल्फ जाॅब सर्च ऐप, 99 एकड‌) को Google play store से हटा दिया गया है। साथ ही अन्य कंपनियों/संस्थाओं के कई मोबाइल application भी गूगल ने Play Store से हटा दिया है। यह कार्रवाई कंपनी के लिए आश्चर्य की बात है। क्योंकि यह Google द्वारा उचित और पर्याप्त नोटिस दिए बिना लिया गया था।

अगले सप्ताह होगी बैठक


जैसे कि हम जानते हैं कि गूगल ने शुक्रवार को सेवा शुल्क भुगतान पर विवाद को लेकर भारत में अपने play store से लोकप्रिय मैट्रिमोनी apps सहित कुछ application को हटाना शुरू कर दिया, जबकि application और जाने माने स्टार्टअप संस्थापकों ने इस पर आपत्ति जताई थी।।

इस मुद्दे पर गंभीरता से विचार करते हुए वैष्णव ने कहा कि इंडिया बहुत स्पष्ट है। हमारी नीति बहुत स्पष्ट है… हमारे स्टार्टअप को वह सुरक्षा मिलेगी। जिसकी उन्हें आवश्यकता है।

मंत्री ने कहा कि सरकार विवाद को सुलझाने के लिए अगले सप्ताह Google और app deliver से मुलाकात करेंगी, जिन्हें सूची से हटा दिया गया है।

वैष्णव ने जोर देकर कहा कि मैंने पहले ही गूगल को call कर दिया है… मैंने उन ऐप डेवलपर्स को पहले ही call कर लिया है, जिन्हें डीलिस्ट कर दिया गया है, हम उनसे अगले हफ्ते मिलेंगे। इसकी अनुमति नहीं दी जा सकती…इस तरह की डीलिस्टिंग की अनुमति नहीं दी जा सकती।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *