Friday, April 12, 2024
DELHI/NCRNational

MCD मेयर चुनाव फिर से टला, हंगामे के बाद एमसीडी सदन स्थगित

दिल्ली मेयर चुनाव एक बार फिर से टल गया है, दरअसल आम आदमी पार्टी के पार्षदों की मांग थी की मनोनीत पार्षदों को मेयर, डिप्टी मेयर, स्टेंडिंग कमेटी के सदस्यों के चुनाव में मतदान करने से रोका जाए, इस मांग को लेकर आप पार्षदों ने सदन में जमकर हंगामा किया। आप का आरोप है कि बीजेपी मनोनीत पार्षदों से वोटिंग के जरिए मेयर चुनाव में हेरफेर करना चाहती है। आप का दावा है कि उनके पास अपना मेयर बनाने के लिए पर्याप्त संख्या है जबकि बीजेपी के पास पूरे नंबर नहीं है। सदन के शुरू होने से पहले भी बीजेपी और आप के बीच आरोप-प्रत्यारोप का तीखा दौर चला। दरअसल बीजेपी ने आरोप लगाया कि आप विधायक दुर्गेश पाठक की तरफ से पार्षदों को खरीदने की कोशिश की जा रही है, जिस पर दुर्गेश पाठक ने पलटवार करते हुए कहा कि देश जानता है कि ऑपरेशन लोटस के जरिए कौन विधायकों और पार्षदों की खरीद-फरोख्त करता है

आप पार्षदों ने एमसीडी पीठासीन अधिकारी को लिखा था पत्र

एमसीडी मेयर चुनाव से ठीक पहले आम आदमी पार्टी [AamAadmiParty] ने एमसीडी पीठासीन अधिकारी को पत्र लिखकर एल्डरमेन यानी एलजी की तरफ से मनोनीत दस पार्षदों को वोटिंग करने से रोकने की मांग की है, AAP के सभी 135 पार्षदों ने to MCD’s Presiding Officer यानि एमसीडी पीठासीन अधिकारी को पत्र लिखकर Aldermen यानि मनोनीत पार्षदों को वोटिंग करने से रोकने की मांग की है, AAP ने पत्र में लिखा है कि बीजेपी की हरकतें दिखा रही है कि उसकी मंशा मेयर चुनाव में हेरफेर करने की है।

एमसीडी चुनाव में आप को मिली थी जीत
बता दें कि दिसंबर में हुए एमसीडी के चुनाव में दिल्ली नगर निगम के 250 वार्डों आम आदमी पार्टी ने 134 वार्ड में जीत दर्ज की थी, वहीं बीजेपी 104 वार्ड में जीत मिली थी.


शैली ओबेरॉय और रेखा गुप्ता के बीच टक्कर
मेयर पद उम्मीदवार के लिए आम आदमी पार्टी ने पार्षद शैली ओबेरॉय को उम्मीदवार बनाया है जबकि बीजेपी ने शालीमार बाग वार्ड की पार्षद रेखा गुप्ता को मेयर उम्‍मीदवार बनाया है।


सदन की बैठक में जमकर हुआ था हंगामा
बता दें कि इससे पहले 7 जनवरी को दिल्ली नगर निगम हाउस की पहली बैठक के दौरान पीठासीन पदाधिकारी सत्या शर्मा के फैसले को लेकर जमकर हंगामा हुआ था, सत्या शर्मा ने 10 मनोनीत पार्षदों को पहले शपथ दिलाई थी जिस पर आप ने ऐतराज जताते हुए इसे असंवैधानिक करार दिया था। बता दें कि दिल्ली के LG वीके सक्‍सेना ने MCD में 10 पार्षद मनोनीत किए हैं, मनोनीत पार्षदों को एल्डरमैन भी कहा जाता है,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *